scorecardresearch
 

राजस्थान : NEET के बाद REET परीक्षा में चेंकिंग पर सवाल! लड़कियों से उतरवाए दुपट्टे, तो लड़कों से शर्ट

राजस्थान के भीलवाड़ा में भी रीट की परीक्षा शुरू हुई. यहां युवतियां फूट-फूटकर रोती नजर आई. पूरी बाजू की कुर्तिंया पहने युवतियों के कुर्ते की आस्तीन कैंची चला दी गई. वहीं पहने हुए मन्नत के धागे भी काट दिए गए.

X
कड़ी सुरक्षा के बीच REET Exam (सांकेतिक तस्वीर)
कड़ी सुरक्षा के बीच REET Exam (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भीलवाड़ा में रोती नजर आई लड़कियां
  • उतरवाए मंगलसूत्र, कुण्डलों पर चली कैंची

देश में NEET की परीक्षा के दौरान बच्चों के इनरवियर उतरवाने का बवाल अभी थमा भी नहीं था. इस बीच राजस्थान में REET Exam के दौरान लड़कियों के दुपट्टे, तो लड़कों के शर्ट उतरवाने की खबर है. राजस्थान में कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच रीट-2022 की परीक्षा आज से शुरू हो गई है. राज्य में ये परीक्षा 23 और 24 जुलाई को चार पारियों आयोजित होनी है.

धौलपुर में उतरवाए मंगलसूत्र, कुण्डलों पर चली कैंची

धौलपुर में रीट परीक्षा के 22 केंद्र बनाए गए हैं. सभी केन्द्रो पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है. अभ्यर्थियों को परीक्षा शुरू होने से दो घंटे पहले प्रवेश दिया गया. जो लड़के परीक्षा देने पूरी बाजू की शर्ट पहनकर पहुंचे थे उनकी शर्ट उतरवा ली गई. वहीं महिलाओं के मंगलसूत्र, कानों के कुण्डल उतरवा लिए गए. जिन महिलाओं के कुण्डल नहीं उतरे उन्हें कैंची से काट कर उतारा गया. वहीं अन्य महिलाओं को भी दुपट्टे, बैंडेज, क्लिप खुलवा कर प्रवेश दिया गया. इस बार रीट की परीक्षा में 22 हजार 507 अभ्यर्थी बैठ रहे हैं.

भीलवाड़ा में फूट-फूट कर रोती नजर आई लड़कियां
राजस्थान के भीलवाड़ा में भी रीट की परीक्षा शुरू हुई. यहां युवतियां फूट-फूटकर रोती नजर आई. पूरी बाजू की कुर्तिंया पहने युवतियों के कुर्ते की आस्तीन कैंची चला दी गई. वहीं पहने हुए मन्नत के धागे भी काट दिए गए. वहीं देरी से आने वाली छात्राओं को परीक्षा केन्द्र पर एंट्री नहीं दी गई. काफी मिन्नतें करने के बाद भी जब उन्हें एंट्री नहीं मिली तो वो फूट-फूट कर रोने लगीं. भीलवाड़ा में 23 परीक्षा केंद्रों पर 8,410 अभ्यर्थी परीक्षा देने बैठे.

भीलवाड़ा में परीक्षा केन्द्र के इंचार्ज डॉ. श्याम लाल खटीक ने बताया कि अभ्यर्थियों की 3 चरण में जांच की गई. हमने प्रशासन के निर्देशों का पालन किया. यह परीक्षा दोबारा हो रही है इसलिए सभी ज्यादा संवेदनशील है. केन्द्र अधीक्षकों को भी केवल कीपैड वाला मोबाइल फोन रखने की अनुमति दी गई. बाकी किसी को भी मोबाइल फोन नहीं दिया गया. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें