scorecardresearch
 

CM गहलोत से बोली छेड़छाड़ से परेशान लड़की- मैं मरना नहीं चाहती, बचा लीजिए

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने एक लड़की गुहार लगा रही है कि मुझे बचा लीजिए, मैं मरना नहीं चाहती. ये लड़की उनके सामने रो-रो बताने लगी कि कैसे छेड़छाड़ करने वाले लड़कों ने उसका जीना मुश्किल कर दिया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो-PTI) मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो-PTI)

  • जोधपुर के भोपालगढ़ पुलिस थाना इलाके का मामला
  • 2 महीने से परेशान है लड़की, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने एक लड़की गुहार लगा रही है कि मुझे बचा लीजिए, मैं मरना नहीं चाहती. जोधपुर में सीएम गहलोत जनसुनवाई में शामिल हुए. वहीं ये लड़की उनके सामने रो-रो बताने लगी कि कैसे छेड़छाड़ करने वाले लड़कों ने उसका जीना मुश्किल कर दिया है.

मामला जोधपुर के भोपालगढ़ पुलिस थाना इलाके से जुड़ा हुआ है. पीड़िता रविवार को जोधपुर में सीएम अशोक गहलोत की जनसुनवाई में आई थी. मुख्यमंत्री को उसने बताया कि कुछ लड़के उसे करीब 2 महीने से लगातार परेशान कर रहे हैं. आरोपियों ने खुद के नंबर वाले व्हाट्सअप पर उसकी फोटो की डीपी लगा रखी है. स्टेटस में लिख रखा है कि 'मेरी नहीं तो किसी और की भी नहीं होगी.

गहलोत बोले- चिंता करने की जरूरत नहीं

लड़की ने बताया कि छेड़छाड़ करने वालों के चलते उसका घर से निकलना मुश्किल हो गया है. पीएमटी की पढ़ाई भी चौपट हो गई है. आखिरकार ये लड़की मुख्यमंत्री की जनसुनवाई में आई जहां सीएम गहलोत ने उसे ढाढस बंधाया कि उसे चिंता करने की जरूरत नहीं है.

क्या डीएम और एसएसपी पर होगी कार्रवाई

हैदराबाद, उन्नाव, मुजफ्फरपुर जैसी वारदातों में पुलिस का रवैया शर्मनाक लापरवाही भरा रहा है. इस मामले में भी पुलिस-प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठा दिख रहा है. सीएम गहलोत ने पीड़िता को तो ढाढस बंधा दिया लेकिन पीड़िता के परिवार को सुरक्षा देने के साथ ही एसएसपी और डीएम पर क्या कार्रवाई होगी ये देखना अभी बाकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें