scorecardresearch
 

2 अगस्त से स्कूल खोलने के फैसले से पलटी राजस्थान सरकार, अब 5 मंत्रियों की कमेटी तय करेगी तारीख

Rajasthan School Re-Open: राजस्थान सरकार दो अगस्त से छात्रों के लिए स्कूल खोलने के अपने फैसले से पलट गई है. पहली से 12वीं तक के स्कूल खोले जाने के फैसले पर लोगों की तीखी प्रतिक्रिया मिलने के बाद सरकार ने कमेटी बनाने का फैसला लिया है.

राजस्थान सीएम अशोक गहलोत राजस्थान सीएम अशोक गहलोत
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्कूल खुलने के मामले में कमेटी गठित
  • राजस्थान सरकार के फैसले का हुआ था विरोध
  • कई अन्य राज्य में भी खुल रहे स्कूल

राजस्थान सरकार (Rajasthan School Re-Open) दो अगस्त से छात्रों के लिए स्कूल खोलने के अपने फैसले से पलट गई है. पहली से 12वीं तक के स्कूल खोले जाने के फैसले पर लोगों की तीखी प्रतिक्रिया मिलने के बाद सरकार ने कमेटी बनाने का फैसला लिया है. राजस्थान में शिक्षण संस्थाओं को खोलने के तौर तरीके और तारीख तय करने के लिए पांच मंत्रियों की एक कमेटी बनाई गई है.  

बीते दिन राजस्थान सरकार की कैबिनेट बैठक में तय किया गया था कि 2 अगस्त से पहली क्लास से लेकर 12 तक के सभी शिक्षण संस्थाएं खोल दिए जाएंगे, लेकिन ज्यादातर अभिभावकों की और स्वास्थ्य विशेषज्ञों की आपत्ति के बाद राजस्थान सरकार ने अपने फैसले पर यू-टर्न मारा है. अब मंत्रियों की कमेटी की सिफारिश के बाद ही राजस्थान सरकार कोई फैसला लेगी.

कोरोना वायरस महामारी की वजह से लंबे समय से देशभर में स्कूल बंद चल रहे हैं. ऑनलाइन ही कक्षाएं चलाई जा रही हैं. हालांकि, अब पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में कमी आ रही है, जिसके बाद कुछ राज्य स्कूल खोलने की तैयारी में लग गए हैं. गुजरात में 26 जुलाई से 9वीं, 10वीं और 11वीं की कक्षाओं के लिए स्कूल खोले जा रहे हैं. हालांकि, इसमें से भी 50 फीसदी स्टूडेंट्स को ही आने की अनुमति दी जाएगी.

वहीं, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा में भी स्कूल को खोले जाने की तैयारी कर ली गई है. इसके अलावा, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को स्कूलों के खुलने को लेकर अहम बयान दिया है. केजरीवाल ने कहा कि हालात को देखने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा. बता दें कि राजस्थान में गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में दो अगस्त से स्कूलों को खोले जाने का फैसला लिया गया था. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने इस संबंध में लिए गए फैसले की जानकारी दी थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें