scorecardresearch
 

पायलट खेमे के MLA भंवरलाल बोले- गहलोत से नहीं, क्षेत्र के मुद्दों को लेकर थी नाराजगी

मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात के बाद पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल ने बातचीत को सकारात्मक बताया और कहा कि सरकार सुरक्षित है. सरकार को कोई खतरा नहीं है.

पायलट खेमे के विधायक भंवरलाल शर्मा पायलट खेमे के विधायक भंवरलाल शर्मा

  • गहलोत सरकार पर मंडरा रहा संकट टला
  • पायलट खेमे के विधायक मुख्यमंत्री से मिले

राजस्थान में गहलोत सरकार पर मंडरा रहा संकट टल गया है. सचिन पायलट की राहुल गांधी और प्रियंका से मुलाकात के बाद जो राजनीतिक गतिविधियां हुईं वो गहलोत सरकार के सेफ होने का संकेत हैं. इस बीच पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा ने जयपुर पहुंचकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की.

मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात के बाद पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल ने बातचीत को सकारात्मक बताया और कहा कि सरकार सुरक्षित है. सरकार को कोई खतरा नहीं है.

भंवरलाल शर्मा ने कहा कि पार्टी एक परिवार है और अशोक गहलोत उसके मुखिया. मेरी अशोक गहलोत से नहीं, मुख्यमंत्री से क्षेत्र के मुद्दों को लेकर नाराजगी थी. एक दो दिन में सब ठीक हो जाएगा. अशोक गहलोत ही मुख्यमंत्री रहेंगे और यह सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी.

सुलह को लौटे पायलट तो शिकायतों पर होने लगा एक्शन, सोनिया ने बनाई 3 सदस्यों की कमेटी

भंवरलाल ने कहा कि कोई कैंप नहीं था, कोई बंदी नहीं था. भंवर लाल एक ऐसा आदमी है जो कभी बंदी रहता ही नहीं है. मैं इच्छा से गया था और इच्छा से आया हूं. हमने एक महीने तक नाराजगी जाहिर की अब नाराजगी दूर हो गई है. पार्टी अब जनता से किए वादों को पूरा करेगी.

राहुल गांधी ने सचिन पायलट से कहा- अशोक गहलोत ही कांग्रेस नहीं

इधर, राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सचिन पायलट की शिकायत की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया, ताकि पायलट और उनके समर्थक विधायकों द्वारा उठाए गए मुद्दों का उचित समाधान किया जा सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें