scorecardresearch
 

राजस्थान: BJP नेता ने किया राहुल-सोनिया का जिक्र, बोले- हमसे पूछकर बनाए गुट?

राजस्थान में कांग्रेस की ओर से विश्वास मत प्रस्ताव पेश कर दिया गया. इसके बाद सदन में इसपर चर्चा शुरू हुई तो बीजेपी और कांग्रेस की ओर से वार-पलटवार किया गया.

बीजेपी नेता गुलाब चंद कटारिया बीजेपी नेता गुलाब चंद कटारिया

  • राजस्थान सदन में हंगामेदार बहस
  • बीजेपी ने कांग्रेस पर साधा निशाना

राजस्थान में विधानसभा सत्र की शुरुआत तीखे हमलों के साथ हुई है. कांग्रेस की ओर से भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा गया और सरकार को अस्थिर करने का आरोप लगाया गया. सचिन पायलट के बाद सदन में भारतीय जनता पार्टी के नेता गुलाब चंद कटारिया ने कांग्रेस पर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि बीजेपी का सरकार गिराने में कोई हाथ नहीं है, बल्कि ये आपके घर की लड़ाई के कारण हुआ है.

गुलाब चंद कटारिया बोले कि आपके दो कैंपों का झगड़ा था, क्या हमने कहा था कि दो कैंप बनाओ? बीजेपी नेता ने कहा कि घर के झगड़े को दूसरों के माथे मारने का प्रयास मत करो. जो वादे अपने किए थे, अगर मंत्री कहे कि उनकी बात सुनी नहीं जाती, उनकी बातों का सम्मान नहीं होता तो इसमें हम क्या करें? क्या मेरी पार्टी से, मेरी दिल्ली की पार्टी से आदेश लेकर गए थे?

ये भी पढ़ें: राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट- जब तक मैं बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है

बीजेपी नेता ने कहा कि सरकार आपसी लड़ाई में लगी रही और प्रदेश में कोरोना वायरस का संकट बढ़ता गया. गुलाबचंद बोले कि मुख्यमंत्री-उपमुख्यमंत्री के ऊपर राजद्रोह का केस लगा दिया, फिर हटा दिया गया.

सरकार ने खुद को बचाने के लिए पुलिस का दुरुपयोग किया, लोगों की पुलिस को विधायकों को बचाने में लगा दिया. आज राजस्थान का नाम देश में खराब हुआ है. बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि जिस पार्टी का अध्यक्ष और पूर्व अध्यक्ष (बिना नाम लिए राहुल गांधी और सोनिया गांधी का जिक्र किया) जमानत पर हो, तो वो हमें क्या सिखाएंगे. आप सरकार चला रहे हैं या झुनझुना बजा रहे हैं.

बीजेपी की ओर से सदन में निशाना साधा गया कि राजस्थान सरकार सिर्फ अपने खेल में लगी रही. केंद्र की ओर से जो मदद आई वो आम लोगों तक नहीं पहुंच पाई.

आपको बता दें कि इससे पहले सदन में कांग्रेस ने विश्वास मत पेश किया. इसी दौरान सचिन पायलट ने अपने संबोधन में कहा कि जबतक वो बैठे हैं, सरकार को कोई खतरा नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें