scorecardresearch
 

राजस्थानः सम्मानित शिक्षकों को सस्ता मकान देगी गहलोत सरकार, यात्रा भी मुफ्त

राजस्थान सरकार ने सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए अब अच्छे टीचरों को सम्मान के साथ-साथ कई तरह के आर्थिक लाभ देने का भी फैसला किया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटोः PTI) मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटोः PTI)

  • सरकार करेगी शिक्षकों का सम्मान
  • कई आर्थिक लाभ का किया ऐलान

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में गिरती गुणवत्ता से चिंतित गहलोत सरकार ने इसमें सुधार के लिए कई कदमों का ऐलान किया है. राजस्थान सरकार ने सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए अब अच्छे टीचरों को सम्मान के साथ-साथ कई तरह के आर्थिक लाभ देने का भी फैसला किया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को यह घोषणा की. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय और राज्य स्तर के ऐसे शिक्षक जिन्हें बेहतर पढ़ाई के लिए सम्मानित किया गया हो, उन्हें राजस्थान रोडवेज की बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्मानित शिक्षकों को राजस्थान आवासन मंडल के बनाए हुए फ्लैट और राज्य सरकार के पास उपलब्ध सरकारी जमीन भी रियायती दर पर उपलब्ध कराई जाएगी.

कैसे मिलेगी रियायती जमीन

सम्मानित शिक्षकों को भूखंड और मकान देने के लिए यह तय किया गया है कि इस तरह के शिक्षकों को सोसाइटी बनानी होगी. सोसाइटी रजिस्टर्ड कराकर सरकार के पास उन्हें अपना प्लान भेजना होगा. इसके बाद राजस्थान आवासन मंडल के बनाए गए फ्लैट का आवंटन किया जा सकेगा. पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को एमआईजी फ्लैट या 150 वर्ग क्षेत्रफल के भूखंड रियायती दर पर दिए जा सकेंगे.

शिक्षा विभाग ने भेजा था प्रस्ताव

शिक्षा विभाग ने शिक्षक दिवस पर पांच सितंबर को इस आशय का प्रस्ताव भेजा था. पहले सम्मानित शिक्षकों को राजस्थान रोडवेज की बसों में यात्रा पर 50 फीसदी की रियायत मिलती थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें