scorecardresearch
 

'ऑपरेशन लोटस' पर आम आदमी पार्टी का राष्ट्रीय जनप्रतिनिधि सम्मेलन, दिल्ली में CM केजरीवाल करेंगे अध्यक्षता

सम्मेलन में अरविंद केजरीवाल के साथ सीएम भगवंत मान समेत देश भर में चुने गए सभी विधायक और राज्यसभा सांसद शामिल होंगे. इसके अलावा, देश भर में आम आदमी पार्टी के चुने गए पार्षद, जिला पंचायत सदस्य, चेयरमैन, मेयर, ब्लाक प्रमुख, सरपंच और प्रधान भी हिस्सा लेंगे.

X
आप संयोजक अरविंद केजरीवाल (पीटीआई)
आप संयोजक अरविंद केजरीवाल (पीटीआई)

आम आदमी पार्टी का राष्ट्रीय जनप्रतिनिधि सम्मेलन आगामी रविवार को होगा. पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल दिल्ली में होने जा रहे इस सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे.  AAP के देश भर में चुने गए जनप्रतिनिधियों का यह पहला राष्ट्रीय जनप्रतिनिधि सम्मेलन होगा.

इस सम्मेलन में अरविंद केजरीवाल के साथ सीएम भगवंत मान समेत देश भर में चुने गए सभी विधायक और राज्यसभा सांसद शामिल होंगे. इसके अलावा, देश भर में आम आदमी पार्टी के चुने गए पार्षद, जिला पंचायत सदस्य, चेयरमैन, मेयर, ब्लाक प्रमुख, सरपंच और प्रधान भी सम्मेलन में हिस्सा लेंगे.

आम आदमी पार्टी ने देश भर में फैले अपने संगठन के चुने हुए जनप्रतिनिधियों को सम्मेलन में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेज दिया है. सम्मेलन में अरविंद केजरीवाल देश भर में चलाए जा रहे भाजपा के ऑपरेशन लोटस और पार्टी संगठन की मजबूती पर जनप्रतिनिधियों के साथ विस्तार से चर्चा करेंगे.

इधर, पंजाब में अप्रत्याशित जीत दर्ज करने वाली आम आदमी पार्टी ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगा दिया है. कहा गया है कि पंजाब में बीजेपी ने ऑपरेशन लोटस चलाया है और विधायकों को 25 करोड़ रुपये तक ऑफर किए गए हैं. मंगलवार को AAP की पंजाब इकाई के चीफ हरपाल चीमा ने प्रेस वार्ता कर दावा कर दिया कि बीजेपी ने कई विधायकों को 25 करोड़ रुपये ऑफर किए हैं. अब इन दावों पर आप संयोजक अरविंद केजरीवाल की प्रतिक्रिया भी सामने आ गई है.

हम कांग्रेस नहीं जिसे खरीद सके- केजरीवाल

उन्होंने बीजेपी को चेतावनी देते हुए कहा है कि दिल्ली के बाद ये लोग अब हमारे MLA ख़रीदने पंजाब पहुंच गए. इनके पास इतने हज़ारों करोड़ रुपए कहां से आ रहे हैं. ये लोग समझ लें- हम कांग्रेस नहीं हैं, हमें ख़रीदना किसी के बस की बात नहीं. देश और जनतंत्र के लिए ये बेहद गंभीर मसला है जिस तरह ये एक एक करके चुनी हुई सरकारें तोड़ रहे हैं. इस पूरे विवाद पर मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भी बड़ा बयान दिया है. जोर देकर कहा गया है कि पंजाब के विधायक कभी भी धोखा नहीं देने वाले हैं.

उनका कहना है कि हम पंजाबी अपनी मिट्टी के वफादार होते हैं. BJP पर सत्ता का नशा सवार है. लोग वोट नहीं दें तो वह विधायक खरीदने का रास्ता चुनते हैं. लेकिन मैं BJP से कहना चाहता हूं - सिकंदर को भी पंजाबियों ने रोका था. मुझे अपने विधायकों पर यकीन है कि वह अपनी धरती और पंजाब के प्रति वफादार रहेंगे. जानकारी के लिए बता दें कि हरपाल सिंह चीमा ने मंगलवार को बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाए थे.

आप के आरोपों में कितना दम?

उन्होंने कहा था कि हर विधायक को ₹25 करोड़ का ऑफर भी दिया जा रहा है. आम आदमी पार्टी को तोड़ने के लिए बीजेपी ने 1375 करोड़ रुपये का बजट रखा है जोकि काले धन से इकट्ठा किया गया है. पिछले एक हफ्ते से बीजेपी ने 7 से 10 आम आदमी पार्टी के विधायकों को सीधे तौर पर या किसी के माध्यम से संपर्क करके बीजेपी में शामिल करने का प्रयास और लालच दिया जा रहा है. पहले बीजेपी गोवा, कर्नाटक, महाराष्ट्र और अरुणाचल प्रदेश में ऐसे ही कर चुकी है और अब पंजाब में भी आम आदमी पार्टी के विधायकों को टार्गेट किया जा रहा है.

अभी के लिए स्थिति को देखते हुए आप के विधायकों को दिल्ली तलब किया गया है. अरविंद केजरीवाल के साथ इन सभी की बैठक होने वाली है.

दिल्ली में भी हो चुका दंगल

वैसे पंजाब से पहले दिल्ली को लेकर भी आम आदमी पार्टी ने ऐसा ही दावा किया था. जब शराब घोटाले की सीबीआई जांच चल रही थी, आप सरकार ने दावा कर दिया कि बीजेपी ने उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश की है. यहां तक कहा गया कि मनीष सिसोदिया को सीएम पद का लालच दिया गया है. बीजेपी ने जरूर तमाम आरोपों को बेबुनियाद बताया लेकिन आम आदमी पार्टी उस मुद्दे को लेकर सीबीआई दफ्तर तक चली गई थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें