scorecardresearch
 

लॉरेंस बिश्नोई के वकील को डर, कहा- कोर्ट में पेशी के बाद हो सकता है फेक एनकाउंटर

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के वकील ने आशंका जताई है कि सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पेशी के बाद पंजाब पुलिस उसका फेक एनकाउंटर कर सकती है. शनिवार को बठिंडा कोर्ट में बिश्नोई की पेशी होनी है. उससे किस जगह पर पूछताछ हो रही है, इसकी जानकारी चंद अफसरों को छोड़कर किसी के पास नहीं है.

X
लॉरेंस बिश्नोई की कोर्ट में होगी पेशी
लॉरेंस बिश्नोई की कोर्ट में होगी पेशी

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले मुख्य आरोपी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई पंजाब पुलिस की गिरफ्त में है. हत्या की गुत्थी को सुलझाने के लिए पुलिस उससे लगातार पूछताछ कर रही है. अब कोर्ट में पेशी से पहले बिश्नोई के वकील ने आशंका जताई है कि उसका फेक एनकाउंटर किया जा सकता है.

लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ कहां और कैसे हो रही है, इसके बारे में पंजाब पुलिस के चंद अफसरों को छोड़कर किसी को कोई जानकारी नहीं है. लॉरेंस बिश्नोई के वकील विशाल चोपड़ा ने कहा कि उनके मुवक्किल की शनिवार को बठिंडा कोर्ट में पेशी है.

बिश्नोई के वकील ने कहा, "शनिवार को लॉरेंस बिश्नोई को जेल ले जाया जाएगा. इस दौरान कोई बड़ी मिस हैपनिंग हो सकती है." पंजाब पुलिस पर निशाना साधते हुए वकील ने कहा, "कोर्ट में पेशी के दौरान पंजाब पुलिस अन्य लोगों के साथ मिलकर लॉरेंस बिश्नोई के साथ कुछ बड़ा जरूर करेगी."

विशाल चोपड़ा ने कहा, "इन सबके दौरान आखिर में पुलिस कहेगी कि लॉरेंस बिश्नोई कस्टडी से भाग रहा था. यह कहते हुए उसका फेक एनकाउंटर कर दिया जाएगा." 

मूसेवाला हत्याकांड में 34 लोग नामजद 

सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले में पंजाब पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट फाइल की है. इसमें कुल 34 लोगों को नामजद किया गया है. इसमें लॉरेंस बिश्नोई, जग्गू भगवानपुरिया सहित करीब एक दर्जन शूटरों के नाम शामिल हैं.

चार्जशीट में दीपक मुंडी नाम के आरोपी को भी नामजद किया गया है. हालांकि, वो अभी तक फरार चल रहा है. पुलिस की एक टीम उसकी तलाश में जुटी हुई है. मगर, अभी तक कोई कामयाबी नहीं मिली है.

कैसे हुई थी मूसेवाला की हत्या?

जानकारी के लिए बता दें कि 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की हत्या कर दी गई थी. उन्हें सरेआम गोलियों से भूना गया था. हमले में मूसेवाला ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था.

मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ को बताया गया. उसी ने लॉरेंस बिश्नोई के साथ मिलकर मूसेवाला की हत्या की पूरी प्लानिंग की. इसके बाद अपने शूटरों के जरिए हत्याकांड को अंजाम दिया.

पुलिस अभी तक इस मामले में कई आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. इस हत्याकांड के बाद से पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार भी मुश्किलों में थी.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें