scorecardresearch
 

सिद्धू मूसेवाला मर्डर: पकड़ा गया शॉर्प शूटर दीपक मुंडी, अटारी से हुई गिरफ्तारी!

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला मर्डर के मुख्य आरोपी दीपक मुंडी को गिरफ्तार कर लिया गया है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि गैंगस्टर मनप्रीत सिंह मन्नू और जगरूप सिंह रूपा के एनकाउंटर के बाद दीपक मुंडी ही एक मात्र शूटर बचा था. सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल 3 शार्पशूटर प्रियवर्त फौजी, अंकित सेरसा और कशिश उर्फ कुलदीप को दिल्ली पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है और दो शूटर एनकाउंटर में ढेर हो चुके हैं.

X
मुख्य आरोपी दीपक मुंडी मुख्य आरोपी दीपक मुंडी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अब तक दो शूटर ढेर तो चार गिरफ्तार
  • बॉर्डर एरिया अटारी के पास से गिरफ्तारी

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के एक और मुख्य आरोपी दीपक मुंडी को पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. दीपक मुंडी शॉर्प शूटर है. सुबह से ही अमृतसर के बॉर्डर एरिया अटारी में एंटी गैंगस्टर टॉस्क फोर्स (AGTF) और STF की काफी अधिक मूवमेंट देखने को मिली है. दोनों के जॉइंट ऑपरेशन में मुंडी को पकड़ने में सफलता हासिल हुई.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि गैंगस्टर मनप्रीत सिंह मन्नू और जगरूप सिंह रूपा के एनकाउंटर के बाद दीपक मुंडी ही एक मात्र शूटर बचा था. सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल 3 शार्पशूटर प्रियवर्त फौजी, अंकित सेरसा और कशिश उर्फ कुलदीप को दिल्ली पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है और दो शूटर एनकाउंटर में ढेर हो चुके हैं.

एनकाउंटर के बाद गोल्डी बराड़ का फेसबुक पोस्ट

इससे पहले पंजाब पुलिस ने गैंगस्टर मनप्रीत सिंह मन्नी और जगरूप सिंह रूपा को एनकाउंटर में ढेर कर दिया था. इस एनकाउंटर के बाद कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा कि बुधवार को पंजाब पुलिस से एनकाउंटर में मारे गए मनप्रीत और जगरूप को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने के लिए कहा था. 

गोल्डी बराड़ ने आगे लिखा, 'मनप्रीत और जगरूप ने मेरी बात नहीं मानी और कहा कि हमें आखिरी परफॉर्मेंस दिखाने दो. फिर छह घंटे तक दोनों पुलिस का मुकाबला करते रहे. जिन लोगों का कहना है कि सिद्धू मूसेवाला को आठ लोगों ने मारा, मैं उन लोगों को बता देना चाहता हूं कि वहां आठ लोग थे लेकिन एनकाउंटर वाले दिन 1000 से ज्यादा पुलिसवालों ने मनप्रीत और जगरूप को घेर लिया था लेकिन फिर भी दोनों ने पुलिस का मुकाबला किया.'

29 मई को हुई थी मूसेवाला की हत्या

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की 29 मई 2022 को हत्या कर दी गई थी. उस वक्त वे अपनी थार से जा रहे थे. मूसा गांव के पास ही उन पर हमला हुआ था. उस दौरान मूसेवाला के साथ सिक्योरिटी नहीं थी. बाद में आए सीसीटीवी फुटेज से पता चला था कि दो कारों में आए बदमाशों ने मूसेवाला पर जानलेवा हमला किया था. मूसेवाला पर करीब 30 राउंड फायर हुए थे.

गोल्डी बराड़ ने ली मूसेवाला की हत्या की सौगंध

अभी तक की जांच के मुताबिक, सिद्धू मूसेवाला की हत्या के पीछे तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का हाथ था. इस बात की पुष्टि कनाडा में बैठा लॉरेंस बिश्नोई का सहयोगी गैंगस्टर गोल्डी बराड़ फेसबुक पोस्ट में कर चुका है. गोल्डी कह चुका है कि उसने विक्की की हत्या का बदला लेने के लिए गुरुद्वारे में जाकर बाकायदा सौगंध ली थी कि मूसेवाला को मारकर ही दम लेंगे.

पिछले साल लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ के करीबी अकाली नेता विक्की मिद्दूखेड़ा की पंजाब में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. बंबिहा ग्रुप सोशल मीडिया पर इसकी जिम्मेदारी लेता है. कहा जाता है कि मिद्दूखेड़ा हत्याकांड में शामिल शूटरों को मूसेवाला ने पनाह दी थी, जिसका बदला बिश्नोई गैंग ने लिया.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें