scorecardresearch
 

Gujarat Election 2022 : वांसदा से कांग्रेस प्रत्याशी अनंत सिंह का पत्नी वैशाली दे रहीं साथ, दिन रात कर रहीं चुनाव प्रचार

वांसदा विधानसभा सीट पर भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर बताई जा रही है. कांग्रेस प्रत्याशी अनंत सिंह की पत्नी भी पति के लिए वोट मांग रही हैं. दिन-रात जनसंपर्क कर रही हैं. अनंत और वैशाली की शादी साल 2016 में हुई थी. वैशाली सिंह का कहना है कि हम हमेशा अपने आदिवासी समाज के साथ हैं.

X
पति अनंत सिंह के लिए प्रचार करती हुईं वैशाली सिंह.
पति अनंत सिंह के लिए प्रचार करती हुईं वैशाली सिंह.

Gujarat Election 2022 : दिसंबर के पहले हफ्ते में गुजरात चुनाव के लिए दो चरणोंं में वोटिंग होगी. आठ दिसंबर को नई सरकार का ऐलान हो जाएगा. चुनाव को लेकर बीजेपी, कांग्रेस, आप, एआईएमआईएम सहित क्षेत्रीय पार्टियां भी अपनी जमीन पक्की करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं. 

प्रत्याशियों का ऐलान हो चुका है और सभी चुनाव के अंतिम दौर का प्रचार कर रहे हैं. इसी क्रम में दक्षिण गुजरात के नवसारि जिले की वांसदा विधानसभा (Vansada Vidhansabha Seat) पर भी भाजपा और कांग्रेस उम्मीदवार के बीच कांटे की टक्कर बताई जा रही है. 

इस सीट की अहमियत कितनी है, इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कांग्रेस प्रत्याशी के साथ उनकी पत्नी भी पति के लिए चुनाव प्रचार में जुटी हैं. वहीं, भाजपा प्रत्याशी के प्रचार के लिए लिए गुजरात प्रदेश भाजपा के बड़े नेताओं के साथ प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल भी मैदान में उतरे हैं. 

पति अनंत सिंह के लिए वोट मांग रहीं वैशाली सिंह.
पति अनंत सिंह के लिए घर-घर जाकर जनता से वोट मांग रहीं हैं वैशाली सिंह.

माइक्रो प्लानिंग के साथ पति के लिए कर रहीं चुनाव प्रचार

'आजतक' से खास बातचीत में वैशाली सिंह ने बताया, "हर रोज टिफिन लेकर महिला समर्थकों के साथ चुनाव प्रचार में निकल जाती हूं. घर-घर जाकर लोगों से मिलती हूं. मैं पति अनंत पटेल के साथ आजीवन अपने आदिवासी समाज के लिए लड़ती रहूंगी."

वैशाली की अनंत सिंह से साल 2016 में हुई थी शादी

अंग्रेजी से ग्रेजुएशन करने के बाद साल 2016 में वैशाली पटेल और अनंत पटेल से शादी हुई थी. शादी के दौरान अनंत पटेल वांसदा तालुका पंचायत अध्यक्ष थे. बाद में साल 2017 में विधायक बने. अनंत सिंह को कई बार जान से मारने की धमकियां भी मिलीं. दो बार उन पर जानलेवा हमला भी हुआ है.

हमलों से नहीं डरते, आदिवासी समाज की रक्षा सर्वोपरि

वैशाली कहती हैं कि पति अनंत पर दो बार जानलेवा हमला हो चुका है. पति अपने अदिवासी समाज के लिए कार्य करते हैं. हमारा समाज ही हमारी ताकत है. हम हमेशा आदिवासी समाज के अधिकारों और सम्मान की रक्षा के लिए काम करते रहेंगे. आदिवासी समाज की रक्षा सर्वोपरि है. 

विधानसभा के लोगों के सात खाना खाती हुईं वैशाली.
विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कार्यकर्ताओं के साथ खाना खाती वैशाली.

जब वक्त मिला, तब खा लेते हैं खाना  

वैशाली कहती हैं कि चुनाव प्रचार के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है. इसके चलते दिन-रात जनसंपर्क चल रहा है. खाना खाने का फिक्स समय नहीं है. इसलिए घर से ही टिफिन लेकर निलकते हैं. जहां भी वक्त मिलता है, सभी लोग साथ बैठकर खाना खा लेते हैं.

(रिपोर्ट- रौनक जानी)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें