scorecardresearch
 

'प्रियंका गांधी से मिलना था, लखनऊ जाने से रोका गया', पति रॉबर्ट वाड्रा का दावा

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के पति रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) का कहना है कि उनको अपनी पत्नी से मिलने के लिए जाने नहीं दिया गया. लखीमपुर खीरी जाने की कोशिश के बाद प्रियंका को गिरफ्तार किया गया था.

रोबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो) रोबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वाड्रा का दावा - लखनऊ जाने से रोका गया
  • वाड्रा ने कहा- वह प्रियंका से मिलना चाहते थे

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के पति रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) ने दावा किया है कि उनको प्रियंका से मिलने जाने से रोका गया है. वाड्रा ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि उन्हें जानकारी मिली है कि उनको लखनऊ एयरपोर्ट पर रोक लिया जाएगा. बता दें कि आज राहुल गांधी भी प्रियंका से मिलने के लिए सीतापुर जाएंगे.

अपने फेसबुक पोस्ट में वाड्रा ने लिखा,'मुझे इस बात की हैरानी है कि किस तरह प्रियंका को आईपीसी की धारा 151 के तहत अरेस्ट किया गया. मैंने उनसे कल बात की थी, उन्होंने बताया कि पुलिस ने किसी तरह का नोटिस या ऑर्डर उनको नहीं दिखाया था. उनको न्यायिक अधिकारी के समक्ष पेश किया गया, उनको कानूनी सलाहकार से भी मिलने नहीं दिया जा रहा.'

मेरे लिए परिवार सबसे पहले - रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा ने आगे लिखा, 'मुझे प्रियंका की बहुत चिंता है, मैंने लखनऊ जाने के लिए बैग भी पैक कर लिया था. लेकिन फिर मुझे बताया गया कि मुझे लखनऊ एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा. यह हैरान करने वाला है कि एक पति अपनी पत्नी के सपोर्ट के लिए उससे मिलने तक नहीं जा सकता. प्रियंका को बहुत से लोगों का सपोर्ट मिल रहा है. लेकिन मेरे लिए परिवार और पत्नी सबसे पहले आते हैं. मैं आशा और प्रार्थना करता हूं कि प्रियंका को जल्दी छोड़ा जाएगा और वह सुरक्षित घर वापस आएंगी.'

बता दें कि प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाते समय रास्ते से हिरासत में लिया गया था. सोमवार सुबह उनको हिरासत में लेकर सीतापुर के पीएसी गेस्ट हाउस में रखा गया था. इसके बाद मंगलवार को बताया गया कि प्रियंका अब हिरासत में नहीं हैं, बल्कि उनको गिरफ्तार कर लिया गया है.

सीतापुर के जिस गेस्ट हाउस में प्रियंका को रखा गया है, उसके बाहर बड़ी संख्या में कांग्रेस समर्थक जुटे हैं और उनको छोड़े जाने की मांग कर रहे हैं. आज राहुल गांधी प्रियंका से मिलने के लिए सीतापुर जाएंगे. इस दौरान उनके साथ सीएम भूपेश बघेल और चरणजीत सिंह चन्नी भी होंगे. ये लोग आगे लखीमपुर खीरी भी जाना चाहते हैं. लेकिन यूपी के प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें