scorecardresearch
 

PFI पर छापे को लेकर राहुल गांधी बोले- सांप्रदायिकता के मसले पर जीरो टॉलरेंस की जरूरत

गुरुवार को देश के कई राज्यों में छापेमारी के दौरान पीएफआई के 100 से ज्यादा लोग गिरफ्तार किए गए हैं. इस मेगा ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए एनआईए ने पूरी तैयारी कर रखी थी. इस ऑपरेशन बेहद गोपनीय रखा गया था. इस अभियान में एनआईए ही नहीं बल्कि और भी जांच एजेंसियां शामिल हैं.

X
राहुल गांधी (फोटो-ANI)
राहुल गांधी (फोटो-ANI)

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा PFI (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) से जुड़े लोगों और उनके ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का बयान आया है. उन्होंने कहा कि सांप्रदायिकता के संबंध में जीरो टॉलरेंस होना चाहिए. केरल के एर्नाकुलम में मीडिया से बातचीत में राहुल गांधी ये बातें कहीं.

बता दें कि गुरुवार को देश के कई राज्यों में छापेमारी के दौरान पीएफआई के 100 से ज्यादा लोग गिरफ्तार किए गए हैं. इस मेगा ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए एनआईए ने पूरी तैयारी कर रखी थी. इस ऑपरेशन बेहद गोपनीय रखा गया था. बाकायदा कंट्रोल रूम बनाकर इस सबसे बड़े ऑपरेशन की मॉनिटिरिंग की जा रही है. इस अभियान में एनआईए ही नहीं बल्कि और भी जांच एजेंसियां शामिल हैं.

वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर राहुल गांधी ने साफ कहा कि वो अपने पुराने रुख पर कायम है यानी वो अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे. राहुल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का पद एक संगठन का नहीं, विचारधारा का है. इसलिए मेरी सलाह है कि जो कोई भी कांग्रेस का अध्यक्ष बने, उसे यह याद रखना चाहिए कि वह एक विचारधारा, एक विश्वास प्रणाली और भारत की दृष्टि का प्रतिनिधित्व करेगा.

भारत जोड़ो यात्रा को लेकर राहुल ने कहा कि यात्रा की सफलता कुछ विचारों पर आधारित है. पहला विचार यह है कि एक भारत अखंड खड़ा है, अपने आप से युद्ध में नहीं है, अपनों से नाराज़ नहीं है, नफरत से भरा नहीं है. यह यात्रा कुछ ऐसा है जिसकी अधिकांश भारतीय लोग सराहना करते हैं और पसंद करते हैं. 

उन्होंने कहा कि दो अन्य विचार भी हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं. एक है बेरोजगारी का स्तर, जिसका सामना आज भारत कर रहा है. दूसरा मुद्दा कीमतों का है. ये विचार हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं और प्रोत्साहित कर रहे हैं. ये विचार आपस में जुड़े हुए हैं. 

बता दें कि कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई. केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री के मुताबिक, चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर के बीच होगी. नामांकन पत्रों की जांच एक अक्टूबर जबकि नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख 8 अक्टूबर होगी. एक से अधिक उम्मीदवार होने पर चुनाव 17 अक्टूबर को होगा. मतों की गिनती और नतीजों की घोषणा 19 अक्टूबर को होगी. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें