scorecardresearch
 

UP: CM योगी के मंदिर पर सियासत शुरू, अखिलेश ने पूछा- 'भू-माफिया पर कौन करेगा कार्रवाई'

अयोध्या के पास सीएम योगी का मंदिर बनवाया गया है. इसे लेकर समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने सीएम योगी से पूछा है कि मंदिर बनवाने वाले भू-माफिया पर कार्रवाई कौन करेगा. अखिलेश ने कहा कि मंदिर बनवाने वाले प्रभाकर मौर्य के चाचा ने शिकायत की है कि मंदिर ज़मीन पर अवैध क़ब्ज़ा करने की बदनीयत से बनवाया गया है.

X
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

राम की नगरी अयोध्या के पास भरतकुंड के पास हाल ही में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का मंदिर बनवाया गया है. इसे लेकर अब सियासत शुरू हो चुकी है. दरअसल, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंदिर बनवाने वाले प्रभाकर मौर्य के चाचा की शिकायत का हवाला देते हुए कहा है कि ये मंदिर ज़मीन पर अवैध क़ब्ज़ा करने की बदनीयत से बनवाया गया है. इसके साथ ही अखिलेश ने सीएम योगी से पूछा है कि ऐसे भू-माफ़िया पर कार्रवाई कौन करेगा.

दरअसल, अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि अयोध्या में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मंदिर बनवाया गया है, इसे सीएम योगी के समर्थक प्रभाकर मौर्य ने बनवाया है. लेकिन इसे बनवाने वाले के चाचा ने सीएम से शिकायत की है कि ज़मीन पर अवैध क़ब्ज़ा करने की बदनीयत से मंदिर बनाया गया है. अब मुख्यमंत्री बताएं कि ऐसे भू-माफ़िया भतीजे पर कार्रवाई वो करेंगे या दिल्ली से विशेष दस्ता आएगा.

 

दरअसल, मसौदा में सीएम योगी की करीब 5 फुट की आदमकद मूर्ति लगाई गई है. यहां पर दोनों समय सीएम योगी की आराधना की जाती है.  मंदिर बनवाने वाले प्रभाकर ने कहा कि हमने संकल्प लिया था कि जो भी अय़ोध्या में श्रीराम मंदिर बनवाएगा हम उसका मंदिर बनवाएंगे. हमने अपना संकल्प पूरा कर लिया है. अयोध्या के योगी मंदिर में बाकायदा उनकी आरती और पूजा होती है. आरती के समय बाकायदा उन पर लिखे गीत भी बजते रहते हैं. यह गीत भी खुद प्रभाकर मौर्य ने ही लिखे हैं. यही नहीं, इस स्थान के प्रचार प्रसार के लिए ऑडियो  और वीडियो कैसेट भी बनाए जा रहे हैं. 

प्रभाकर मौर्य कहते हैं, ''योगी महाराज की लंबाई उनके अनुसार 5 फीट 4 इंच की है, इसलिए उन्होंने भी इतनी बड़ी मूर्ति उनके मंदिर में स्थापित की है. मूर्ति पर कपड़े कैसे हों, इसका भी ध्यान रखा गया है. इसीलिए जो कपड़े योगी आदित्यनाथ पहनते हैं, वैसे ही कपड़े उनकी मूर्ति के शरीर पर भी हैं. इस बात का खास ध्यान रखा गया है कि मूर्ति देखते ही योगी आदित्यनाथ का अक्श मन में उभर आए.

 
ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें