scorecardresearch
 

देश का मिजाज: कोरोना के बाद बेरोजगारी है देश की सबसे बड़ी समस्या, एक स्वर में बोले लोग

12 हजार 232 लोगों की राय लेकर किए गए इस सर्वे में 24 फीसदी लोगों ने कोरोना वायरस को भारत की सबसे बड़ी समस्या बताया. शहरी क्षेत्र में 23 फीसदी लोग कोरोना महामारी को मौजूदा भारत की सबसे बड़ी समस्या मानते हैं तो ग्रामीण भारत के 24 फीसदी लोग कोरोना महामारी को देश की सबसे बड़ी समस्या मानते हैं. 

बेरोजगारी को देश की बड़ी समस्या मानते हैं लोग (फाइल फोटो) बेरोजगारी को देश की बड़ी समस्या मानते हैं लोग (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना महामारी, बेरोजगारी देश की सबसे बड़ी समस्या
  • 24 फीसदी लोगों ने कोरोना महामारी को सबसे बड़ी समस्या बताया
  • 23 फीसदी लोग बेरोजगारी को दूसरी सबसे बड़ी समस्या मानते हैं

कोरोना महामारी, महंगाई, आतंकवाद, भ्रष्टाचार मौजूदा वक्त में भारत की सबसे बड़ी समस्या क्या है. इसी सवाल को लेकर 'देश का मिजाज' सर्वे में आजतक ने जनता के विचार जानने चाहे. मूड ऑफ द नेशन (MOTN) नाम से किए गए इस सर्वे में लोगों ने कोरोना महामारी, बेरोजगारी को देश की सबसे बड़ी समस्या बताया. 

कोरोना संक्रमण मौजूदा वक्त की भारत की सबसे बड़ी समस्या

12 हजार 232 लोगों की राय लेकर किए गए इस सर्वे में 24 फीसदी लोगों ने कोरोना वायरस को भारत की सबसे बड़ी समस्या बताया. शहरी क्षेत्र में 23 फीसदी लोग कोरोना महामारी को मौजूदा भारत की सबसे बड़ी समस्या मानते हैं तो ग्रामीण भारत के 24 फीसदी लोग कोरोना महामारी को देश की सबसे बड़ी समस्या मानते हैं. 

दूसरे नंबर पर है बेरोजगारी

बेरोजगारी को मौजूदा वक्त में 23 फीसदी लोग भारत की दूसरी सबसे बड़ी समस्या मानते हैं. अगर शहरी और ग्रामीण विभाजन की बात करें तो शहरों में 22 फीसदी और गांवों में 23 फीसदी लोग बेरोजगारी को इस वक्त भारत की दूसरी सबसे बड़ी समस्या मानते हैं. 

आर्थिक मंदी तीसरी सबसे बड़ी समस्या

आर्थिक मंदी को मात्र 9 फीसदी लोग देश की तीसरी सबसे बड़ी समस्या मानते हैं. 7 फीसदी लोगों की नजर में किसानों का संकट मौजूदा वक्त की भारत की चौथी सबसे बड़ी समस्या है. बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ देश के किसान करीब दो महीने से दिल्ली की सीमाओं पर धरना दे रहे हैं. सरकार के साथ उनका गतिरोध बना हुआ है. 7 फीसदी लोगों की नजर में भ्रष्टाचार भी बड़ी समस्या है, जबकि 6 फीसदी लोगों का मानना है कि सुस्त अर्थव्यवस्था भी इस वक्त देश की सबसे बड़ी समस्या है. 

सर्वे में 12 हजार से ज्यादा लोग शामिल

मूड ऑफ द नेशन पोल मार्केट रिसर्च एजेंसी कार्वी इनसाइट्स ने किया. लोगों की राय 3 जनवरी से 13 जनवरी, 2021 के बीच ली गई. सर्वे में कुल 12,232 लोगों को शामिल किया गया. इसमें ग्रामीण क्षेत्रों के 67 प्रतिशत और शहरी क्षेत्रों के 33 प्रतिशत लोग थे. 19 राज्यों के 97 संसदीय क्षेत्र और 194 विधानसभा क्षेत्र में ये सर्वे किए गए.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें