scorecardresearch
 

दिल्ली पुलिस को रूट का इंतजार, किसान ट्रैक्टर के साथ परेड के लिए तैयार

सिंघु बॉर्डर पर पंजाब किसान संघर्ष कमेटी के नेता सतनाम सिंह पन्नू ने कहा है कि कई किसान गणतंत्र दिवस के मौके पर होने वाले ट्रैक्टर रैली में शामिल होने के लिए दिल्ली आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसान दिल्ली के आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टर रैली निकालेंगे ही, दिल्ली पुलिस इसके लिए अनुमति दे अथवा नहीं.

पटियाला में दिल्ली की ट्रैक्टर रैली की तैयारी करते किसान (फोटो- पीटीआई) पटियाला में दिल्ली की ट्रैक्टर रैली की तैयारी करते किसान (फोटो- पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 26 जनवरी को परेड पर अडिग किसान
  • आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टर रैली होकर रहेगी
  • यूपी से आएंगे 25 हजार ट्रैक्टर

26 जनवरी को प्रस्तावित किसानों की ट्रैक्टर रैली पर टकराव बढ़ता दिख रहा है. किसान नेता सतनाम सिंह पन्नू ने कहा है कि दिल्ली पुलिस अनुमति दे या न दे, 26 जनवरी को आउटर रिंग रोड पर किसानों की ट्रैक्टर रैली होकर रहेगी. 

बता दें कि किसान दिल्ली के आउटर रिंग रोड पर रैली करने के लिए अड़े हुए हैं. आज सिंघु बॉर्डर पर पंजाब किसान संघर्ष कमेटी के नेता सतनाम सिंह पन्नू ने कहा है कि कई किसान गणतंत्र दिवस के मौके पर होने वाले ट्रैक्टर रैली में शामिल होने के लिए दिल्ली आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसान दिल्ली के आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टर रैली निकालेंगे ही, दिल्ली पुलिस इसके लिए अनुमति दे अथवा नहीं.  

वहीं दिल्ली पुलिस सूत्रों के अनुसार किसानों को सेंट्रल दिल्ली में ट्रैक्टर परेड की इजाजत नहीं दी जाएगी. सूत्रों के अनुसार दिल्ली पुलिस किसानों के द्वारा दिए जाने वाले रुट मैप का इंतजार कर रही है. इसके बाद किसानों और पुलिस की फाइनल मीटिंग होगी. किसानों को ट्रैक्टर परेड के लिए लिखित में रूट देना होगा. किसान गणतंत्र दिवस परेड के बाद ही अपनी ट्रैक्टर परेड निकाल सकेंगे.  

देखें: आजतक TV LIVE

इधर भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी किसान परेड निकालने की तैयारी कर रहे हैं. राकेश टिकैत ने कहा है कि 26 जनवरी को किसान परेड के दिन उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के किसान 25 हजार ट्रैक्टर के साथ दिल्ली की सड़कों पर उतरेंगे. इस ट्रैक्टर रैली में राजनीतिक पार्टियों को आने की इजाजत नहीं होगी. 

राकेश टिकैत ने कहा कि गणतंत्र दिवस के दिन 25 हजार ट्रैक्टर रैली में शामिल होंगे. इस रैली में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलावा यूपी के दूसरे जिलों के किसान भी शामिल होंगे. उन्होंने कहा कि यूपी और उत्तराखंड से किसान अपने ट्रैक्टर ट्रॉली के साथ यूपी गेट की ओर आ रहे हैं, लेकिन पुलिस उन्हें रोक रही है. फिर भी वो दिल्ली आएंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें