scorecardresearch
 

हाथरस गैंगरेप पर बोलीं सोनिया- लड़की के साथ जो हैवानियत हुई, वो हमारे समाज पर कलंक

सोनिया गांधी ने कहा कि हाथरस में मासूम लड़की के साथ जो हैवानियत हुई, वो हमारे समाज पर कलंक है. हाथरस की निर्भया की मृत्यु नहीं हुई है, उसे एक निष्ठुर सरकार द्वारा मारा गया है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फोटो- PTI) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फोटो- PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हाथरस गैंगरेप केस पर सोनिया गांधी ने दिया बयान
  • सोनिया गांधी ने यूपी सरकार पर साधा निशाना
  • 'लड़की के साथ जो हैवानियत हुई, वो हमारे समाज पर कलंक'

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हाथरस गैंगरेप केस पर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हाथरस में मासूम लड़की के साथ जो हैवानियत हुई, वो हमारे समाज पर कलंक है. सोनिया गांधी ने कहा कि हाथरस की निर्भया की मृत्यु नहीं हुई है, उसे एक निष्ठुर सरकार द्वारा मारा गया है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पीड़िता के परिवार के साथ मजबूती से खड़ी है. यूपी सरकार ने मामले को दबाने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि क्या लड़की होना गुनाह है. क्या गरीब की लड़की होना अपराध है. यूपी सरकार क्या कर रही थी. हफ्तों तक पीड़ित परिवार की न्याय की पुकार को सुना नहीं गया. समय पर बच्ची को सही इलाज नहीं मिला. आज एक बेटी हमारे बीच से चली गई है. 

सोनिया गांधी ने कहा कि हाथरस की बेटी जब जिंदा थी तो उसकी सुनवाई नहीं हुई. उसकी रक्षा नहीं हुई. मृत्यु के बाद उसे उसके परिवार को नहीं सौंपा गया. एक मां आखिरी बार अपनी बेटी को विदा भी नहीं कर पाई. ये घोर पाप है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लड़की का जबरन अंतिम संस्कार कर दिया गया. मरने के बाद इंसान की एक गरिमा होती है. लेकिन उस बच्ची को अनाथों की तरह जला दिया गया. ये कैसा न्याय है. ये कैसी सरकार है. सरकार को लगता है कि वो कुछ भी करती रहेगी और देश देखता रहेगा. ऐसा बिल्कुल नहीं हो सकता. देश आपके अन्याय के खिलाफ बोलेगा. कांग्रेस पीड़िता परिवार के साथ खड़ी है.

CM ने की पीड़िता के परिवार से बात

विपक्ष के हमले के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से बात की है. पीड़िता के पिता ने मुख्यमंत्री से आरोपियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की मांग की. मुख्यमंत्री ने पीड़िता के पिता से बात करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भरोसा दिया और प्रशासन को हर संभव मदद के निर्देश दिए.

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने पीड़िता के परिवार को 25 लाख की सहायता राशि देने का ऐलान किया. सीएम योगी ने कहा कि परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. सरकार परिवार को एक घर भी आवंटित करेगी.      


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें