scorecardresearch
 

अपनी हार पर बोले मनोज झा- 'तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल, हार जाने का हौसला है मुझमें'

मनोज झा ने कहा, 'ये कोई दो व्यक्तिगत लोगों के बीच का मसला नहीं है. अहमद फराज ने कहा है 'तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल, हार जाने का हौसला है मुझमें'.

राज्यसभा के उपसभापति चुने गए हरिवंश राज्यसभा के उपसभापति चुने गए हरिवंश
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मनोज झा ने अहमद फराज का सुनाया शेर
  • मनोज झा का शेर सुनकर सदन में बजी तालियां
  • मनोज झा ने जीत पर हरिवंश को दी बधाई

एनडीए के उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह सोमवार को दोबारा राज्यसभा के उपसभापति चुन लिए गए. उन्होंने विपक्षी उम्मीदवार और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता मनोज झा को हराया. सभापति वेंकैया नायडू ने हरिवंश के निर्वाचन की घोषणा की. इसके लिए बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और थावरचंद गहलोत ने एक प्रस्ताव बढ़ाया था जिसे ध्वनिमत से पारित कर दिया गया. 

दूसरी ओर कांग्रेस और डीएमके ने मनोज झा की उम्मीदवारी में एक प्रस्ताव बढ़ाया था जिस पर मतदान नहीं कराया गया. मनोज झा जेडीयू के नेता हरिवंश से मात खा गए लेकिन उन्होंने सदन में एक शेर पढ़कर सबका मन मोह लिया. उन्होंने एक शेर पढ़कर हरिवंश को जीत की बधाई दी. मनोज झा ने कहा, 'ये कोई दो व्यक्तिगत लोगों के बीच का मसला नहीं है. अहमद फराज ने कहा है 'तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल, हार जाने का हौसला है मुझमें'. मनोज झा का यह शेर सुनकर पूरा सदन वाह-वाह करने लगा.

सदन में मनोज झा ने कहा, सदन में उपस्थित सभी सहयोगियों, पक्ष और विपक्ष सभी का शुक्रिया. उन्होंने कहा, हरिवंश जी उपसभापति चयनित हुए हैं, यह कभी भी दो व्यक्तियों का मामला नहीं था. कभी भी मामला व्यक्तियों का नहीं होना चाहिए क्योंकि व्यक्ति विमर्श में मुद्दे छूट जाते हैं. अच्छा हुआ कि हमने बीच रास्ते में रुक कर तय किया कि यहां मिलन मंदिर है. हमारी बातचीत हो सकती है, ये लोकतंत्र की सबसे खूबसूरत चीज है... अहमद फराज कहते हैं तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल, हार जाने का हौसला है मुझमें. शुक्रिया जय हिंद. मनोज झा का यह शेर सुनकर पूरा सदन तालियों से गूंज उठा. 

पीएम मोदी ने दी बधाई
राज्यसभा उपसभापति के चुनाव में हरिवंश के एक बार फिर चुने जाने पर पीएम मोदी ने हरिवंश को जीत की बधाई दी. पीएम मोदी ने कहा, 'पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में हरिवंश जी ने बहुतों के लिए काम किया है. हम सभी ने उनके सदन की कार्यवाही के संचालन को देखा है. उन पर जेपी का प्रभाव है. वह एक शानदार अंपायर रहे हैं और आने वाले समय में भी ऐसा ही रहेगा.'

पीएम मोदी ने कहा, 'हरिवंश जी ने अपने दायित्व को कितनी सफलता से पूरा किया है, पिछले कुछ साल इसके गवाह हैं. हरिवंश जी ने सदन में जितनी गहराई से बड़ी-बड़ी चर्चा कराई, कई घंटों से लगातार बैठे रहे, इस दौरान देश की दिशा को बदलने वाले अनेकों बिल इस सदन में पास हुआ.' बता दें, पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता रहे हरिवंश सोमवार को दोबारा राज्यसभा के उपसभापति चुन लिए गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें