scorecardresearch
 

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर की पार्टी का बीजेपी में होगा विलय, तय हो गई तारीख!

कैप्टन के साथ पंजाब के करीब 6 से 7 पूर्व विधायक, बेटे रण इंदर सिंह, बेटी जय इंदर कौर, नाती निर्वाण सिंह भी बीजेपी में शामिल होंगे. कैप्टन अमरिंदर सिंह के तमाम करीबियों और पुराने सहयोगियों को उनकी बेटी जय इंदर कौर ने 19 सितंबर को दिल्ली पहुंचने के लिए बोला है. जय इंदर कौर फिलहाल कैप्टन का पूरा राजनीतिक काम संभाल रही हैं. 

X
पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)
पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस का बीजेपी में विलय लगभग तय हो गया है. इस पर फाइनल फैसला सोमवार को पार्टी मीटिंग के बाद होगा. कहा जा रहा है कि दिल्ली स्थित बीजेपी हेडक्वार्टर में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की मौजूदगी में कैप्टन अमरिंदर सिंह प्राथमिक सदस्यता ग्रहण करेंगे.

कैप्टन के साथ पंजाब के करीब 6 से 7 पूर्व विधायक, बेटे रण इंदर सिंह, बेटी जय इंदर कौर, नाती निर्वाण सिंह भी बीजेपी में शामिल होंगे.  कैप्टन अमरिंदर सिंह के तमाम करीबियों और पुराने सहयोगियों को उनकी बेटी जय इंदर कौर ने 19 सितंबर को दिल्ली पहुंचने के लिए बोला है. इसी दिन सदस्यता भी ली जा सकती है. जय इंदर कौर फिलहाल कैप्टन का पूरा राजनीतिक काम संभाल रही हैं. 

हाल ही में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद पार्टी के विलय की अटकलें तेज हो गई थीं. हालांकि कैप्टन ने पार्टी विलय के सवाल पर कहा था कि ये सब कोरी कल्पना है. ऐसा कुछ नहीं होने जा रहा है. 

बता दें कि पंजाब में चुनाव से पहले कैप्टन को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था. उन्होंने कांग्रेस पार्टी भी छोड़ दी थी. उसके बाद कैप्टन ने नई पार्टी 'पंजाब लोक कांग्रेस' (Punjab Lok congress) का गठन किया और पंजाब में बीजेपी के साथ गठबंधन किया था. हालांकि, बीजेपी गठबंधन को चुनाव में खास सफलता नहीं मिल सकी और राज्य में भगवंत मान के नेतृत्व में AAP की सरकार बनी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें