scorecardresearch
 

शशि थरूर को 'गढ़' में ही नहीं मिल रहा सपोर्ट, केरल कांग्रेस के नेता बोले- राहुल गांधी बनें पार्टी अध्यक्ष

शशि थरूर कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने का मन बना चुके हैं. लेकिन उनको केरल में भी सपोर्ट मिलता नहीं दिख रहा है. जबकि वह केरल के तिरुवनंतपुरम से ही सांसद हैं. केरल कांग्रेस के नेता राहुल गांधी को फिर से अध्यक्ष बनता देखना चाहते हैं.

X
 कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए शशि थरूर इसी महीने नामांकन कर सकते हैं
2:15
कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए शशि थरूर इसी महीने नामांकन कर सकते हैं

कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव रोचक होता दिख रहा है. एक तरफ कांग्रेस सांसद शशि थरूर चुनाव में खड़े होने का पूरा मन बना चुके हैं, वहीं दूसरी तरफ उनके केरल राज्य से ही उन्हें सपोर्ट मिलता नहीं दिख रहा है. केरल कांग्रेस के लोग राहुल गांधी को दोबारा अध्यक्ष बनता देखना चाहते हैं. शशि थरूर के लिए यह किसी झटके से कम नहीं होगा. वैसे केरल से पहले 7 राज्यों की कांग्रेस कमेटियों ने भी राहुल को अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव दे दिया है. हालांकि, अबतक राहुल की उम्मीदवारी को लेकर कुछ साफ नहीं है.

शशि थरूर की बात करें तो सोमवार को उन्होंने सोनिया गांधी से मिलकर अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की इच्छा जता दी है. सोनिया गांधी ने भी कह दिया है कि थरूर अगर चुनाव लड़ना चाहते हैं तो यह उनका फैसला है. शशि थरूर को फिलहाल चुनौती अशोक गहलोत से मिलती दिख रही है. वह इसी महीने के अंत में अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन कर सकते हैं.

शशि थरूर भी इसी महीने नामांकन कर सकते हैं, लेकिन उनको कितना सपोर्ट मिलेगा अब यह देखने वाली बात होगी. क्योंकि यहां थरूर को कांग्रेस के नाराज धड़े जी-23 से जुड़ा वहीं गहलोत को गांधी परिवार का करीबी माना जा रहा है.

केरल के नेता राहुल गांधी के सपोर्ट में

शशि थरूर केरल के तिरुवनंतपुरम से सांसद हैं. लेकिन केरल के ही सीनियर कांग्रेस नेता शशि थरूर के सपोर्ट में खड़े नहीं दिख रहे. आजतक ने केरल कांग्रेस के कुछ सीनियर नेताओं और सांसदों से बात की. सभी ने राहुल गांधी को केरल की पसंद बताया.

कांग्रेस के सीनियर नेता रमेश चेन्नीतला (Ramesh Chennithala) ने कहा कि यह थरूर का फैसला है कि उनको पार्टी अध्यक्ष का चुनाव लड़ना है या नहीं. उन्होंने आगे कहा कि केरल के लोगों का विचार है कि राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनना चाहिए, इसके संबंध में किसी तरह का प्रस्ताव लाने की भी जरूरत नहीं है.

वहीं कांग्रेस सांसद कोडुक्कुनिल सुरेश (Kodukkunil Suresh) ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव कोई भी लड़ सकता है. पार्टी सर्मसम्मति से अपना फैसला लेगी. वह बोले कि मुझे शशि थरूर की उम्मीदवारी के बारे में मीडिया से पता चला है. वैसे राहुल इस पोस्ट के लिए योग्य हैं. हमें उम्मीद है कि अध्यक्ष के रूप में राहुल की वापसी होगी.

सांसद के मुरलीधरन (K Muraleedharan) ने भी ऐसी ही बात कही. वह बोले कि पार्टी अध्यक्ष के लिए चुनाव कोई भी लड़े. लेकिन जिसको नेहरू परिवार का समर्थन होगा वहीं अध्यक्ष बनेगा.

मुरलीधरन ने इशारों-इशारों में थरूर को सपोर्ट ना करने की बात भी कह दी. वह बोले कि हमारे विचार में PCC के सदस्य उसी को सपोर्ट करेंगे जो खुले तौर पर नेहरू-गांधी परिवार को सपोर्ट करता होगा. क्या वह (थरूर) नेहरू-गांधी परिवार को सपोर्ट करते हैं? राज्य से उस सदस्य को सभी वोट मिलेंगे जो खुले तौर पर नेहरू-गांधी परिवार के साथ होगा. वर्ना तो नहीं.

केरल के नेताओं का यह भी कहना है कि कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को वहां इतना प्यार, सम्मान इसलिए ही मिल रहा है क्योंकि यह राहुल गांधी द्वारा निकाली जा रही है.

(इनपुट- शिबि)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें