scorecardresearch
 

'भारत जोड़ो यात्रा' की चर्चा बैठक में आपस में भिड़े कांग्रेस कार्यकर्ता, जमकर हुई हाथापाई

Bharat Jodo Yatra की चर्चा को लेकर रखी गई मीटिंग में कांग्रेस कार्यकर्ता जमकर भिड़ गए. वर्कर्स के दो गुटों के बीच जमकर झगड़ा हुआ. वरिष्ठ नेताओं के हस्तक्षेप करने के बाद किसी तरह वे शांत हुए. यहां एक नवंबर से भारत जोड़ो यात्रा शुरू होने जा रही है, लेकिन इसके पहले ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आपसी मतभेद सामने आ गया.

X
भारत जोड़ो यात्रा की मीटिंग में भिड़े कांग्रेस कार्यकर्ता
भारत जोड़ो यात्रा की मीटिंग में भिड़े कांग्रेस कार्यकर्ता

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) की चर्चा को लेकर रखी गई मीटिंग में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच जमकर मारपीट हो गई. कांग्रेस कार्यकर्ता के दो गुट आपस में ही भीड़ गए. इस लड़ाई का वीडियो भी सामने आया है. घटना असम के धुबरी जिले के राजीव भवन में हुई. देखें वीडियो:-

सोमवार को असम के धुबरी जिले के राजीव भवन में भारत जोड़ो यात्रा की चर्चा के लिए बैठक बुलाई गई थी. तभी कांग्रेस के राज्य महासचिव, पूर्व मंत्री और धुबरी विधायक की उपस्थिति में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झगड़ा हो गया.

बैठक के लिए पहुंचे सभी कांग्रेस कार्यकर्ता एक दूसरे पर इल्जाम लगाते हुए आपस में भिड़ गए. सभी के बीच जमकर हाथापाई होने से माहौल तनावपूर्ण हो गया. फिर किसी तरह वरिष्ठ नेताओं के हस्तक्षेप के बाद कार्यकर्ता शांत हुए.

धुबरी जिले के राजीव भवन

कार्यकर्ताओं के बीच हुए झगड़े पर जानकारी देते हुए कांग्रेस विधायक वाजिद अली ने कहा, "पार्टी कार्यकर्ताओं ने जिला कांग्रेस अध्यक्ष पर आरोप लगाते हुए अपनी चिंता जाहिर की. इस पर हमने उन्हें शांत होने के लिए कहा और जिला कांग्रेस अध्यक्ष के साथ जो मन-मुटाव है, उसे दूर करने की बात कही."

जब वाजिद अली से पूछा गया कि 'भारत जोड़ो यात्रा' कैसे सफल होगी, जब पार्टी के कार्यकर्ताओं में ही दरार है. इस सवाल का जवाब देते हुए अली ने कहा, ''कार्यकर्ताओं के मुद्दे अलग हैं, लेकिन उन्होंने अपनी चिंता जाहिर करने के लिए गलत मौका चुना.''

जब वाजिद अली से धुबरी निर्वाचन क्षेत्र पूछा गया कि एआईयूडीएफ के पास एक राजनीतिक दल के रूप में बहुमत है और क्या यह मुस्लिम आबादी को दो हिस्सों में बांटने की कोशिश कर रहा है? इस पर जवाब देते हुए विधायक ने कहा, "बीजेपी 'गोरिया...मोरिया कार्ड' खेलकर बंटवारा करने की कोशिश कर रही है. मुझे विश्वास है कि यह विभाजन जनता के बीच पैदा नहीं होगा."

(रिपोर्ट - अजय कुमार मोरे)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें