scorecardresearch
 
भारत

भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर

भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 1/8
भारत से रक्षा साझेदारी बढ़ाने की कवायद में 5 जून को दो दिनी दौरे पर दिल्ली पहुंचे अमेरिकी रक्षामंत्री लियोन पेनेटा के हाथ किसी नए हथियार सौदे के लगने की फिलहाल उम्मीद नहीं है.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 2/8
दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के बीच 6 जून को होने वाली बातचीत में सहयोग की बातें तो होंगी लेकिन सैन्य खरीद का कोई करार परवान नहीं चढ़ पाएगा.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 3/8
सरकारी सूत्रों के मुताबिक, बीते दिनों अमेरिका से 145 एम-777 होवित्जर तोपें खरीदने के 3000 करोड़ रुपये के प्रस्ताव को मंजूरी भले मिल गई हो, लेकिन अभी इसकी कवायद खरीद सौदे की स्थिति तक नहीं पहुंची है.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 4/8
प्रस्ताव पर अभी वित्त मंत्रालय और केंद्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा संबंधी समिति की मुहर नहीं लग पाई है.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 5/8
इसके अलावा वायुसेना के लिए 22 नए लड़ाकू हेलीकॉप्टर खरीदने की प्रक्रिया को तो अभी रक्षा खरीद परिषद की मंजूरी तक नहीं मिली है.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 6/8
भारतीय वायुसेना से 126 लड़ाकू विमानों की खरीद का आर्डर पाने में नाकाम रहा अमेरिका भारत से नए रक्षा सौदे हासिल करने पर खासा जोर दे रहा है. बीते दिनों एशिया के दौरे पर आई विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने विदेश मंत्री एसएम कृष्णा के साथ साझा पत्रकार वार्ता में दोनों देशों के सैन्य संबंधों को खासा अहम बताया था.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 7/8
हालांकि अमेरिकी रक्षामंत्री का पद संभालने के बाद पहली बार आ रहे लियोन पेनेटा की नजर भारत के साथ करीब आठ अरब डॉलर के सैन्य सौदों पर है.
भारत-अमेरिका रक्षा सौदौं पर नजर
  • 8/8
दोनों देशों के बीच 13 जून को रणनीतिक वार्ता होनी है. लिहाजा वाशिंगटन में होने वाली इस अहम बातचीत से एक सप्ताह पहले पहुंच रहे पेनेटा का जोर भारत की हथियार शॉपिंग लिस्ट में अमेरिकी हिस्सेदारी बढ़ाने व पाइपलाइन में फंसे सौदों की रफ्तार बढ़ाने पर होगा.