scorecardresearch
 
भारत

PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू

PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू
  • 1/5
भारत के मून लैंडर विक्रम के चांद पर लैंडिग से ठीक 2.1 किमी पहले उसका इसरो से संपर्क टूट गया. विक्रम का संपर्क क्यों टूट गया इसकी अभी कोई जानकारी नहीं है. लेकिन पीएम मोदी ने इसरों वैज्ञानिक की उपलब्धियों पर उन्हें बधाई दी और उनका मनोबल बढ़ाया. इतना ही नहीं पीएम मोदी जब इसरों के कमांड सेंटर से निकल रहे थे तो इसरो चीफ के सिवन से उनसे मिलकर बेहद भावुक हो गए.
PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू
  • 2/5
इसरो चीफ के सिवन पीएम मोदी से गले लगकर रोने लगे जिसपर पीएम मोदी भी भावुक हो गए और उन्होंने के सिवन का हौसला बढ़ाया. इससे पहले प्रधानमंत्री ने कहा कि हम निश्चित रूप से सफल होंगे. इस मिशन के अगले प्रयास में भी और इसके बाद के हर प्रयास में भी कामयाबी हमारे साथ होगी.
PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू
  • 3/5
इसरो वैज्ञानिकों और देश को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि हर मुश्किल, हर संघर्ष, हर कठिनाई, हमें कुछ नया सिखाकर जाती है, कुछ नए आविष्कार, नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित करती है और इसी से हमारी आगे की सफलता तय होती हैं. ज्ञान का अगर सबसे बड़ा शिक्षक कोई है तो वो विज्ञान है. विज्ञान में विफलता नहीं होती, केवल प्रयोग और प्रयास होते हैं.

PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू
  • 4/5
पीएम मोदी वैज्ञानिकों की तारीफ करते हुए कहा से मैं कहना चाहता हूं कि भारत आपके साथ है. आप सब महान प्रोफेशनल हैं जिन्होंने देश की प्रगति के लिए संपूर्ण जीवन दिया और देश को मुस्कुराने और गर्व करने के कई मौके दिए. आप लोग मक्खन पर लकीर करने वाले लोग नहीं हैं पत्थर पर लकीर करने वाले लोग हैं.
PM मोदी से गले मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ, आंखों में आए आंसू
  • 5/5
पीएम मोदी ने कहा कि आज भले ही कुछ रुकावटें हाथ लगी हो, लेकिन इससे हमारा हौसला कमजोर नहीं पड़ा है, बल्कि और मजबूत हुआ है. आज हमारे रास्ते में भले ही एक रुकावट आई हो, लेकिन इससे हम अपनी मंजिल के रास्ते से डिगे नहीं हैं.