scorecardresearch
 
भारत

इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह

इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 1/9
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने का रास्ता साफ हो गया है. राज्यसभा के बाद लोकसभा में भी इससे जुड़ा बिल पास हो गया है. इस मुद्दे पर लोकसभा में चर्चा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति की वजह से अब तक जम्मू-कश्मीर की तरक्की में अनुच्छेद 370 रोड़ा बना हुआ था.
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 2/9
अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अब तक तीन परिवारों ने शासन किया, और इन परिवारों को लगता था कि अगर यहां से अनुच्छेद 370 हट गया तो उनकी राजनीति खत्म हो जाएगी. जिस वजह से ये हमेशा अनुच्छेद 370 के हटने का विरोध करते रहे. उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र में कांग्रेस की सरकार रही, उसने भी भ्रष्टाचार पर आंखें मूंदी रखी.
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 3/9
लोकसभा में अमित शाह ने बताया कि जम्मू-कश्मीर की क्षेत्रीय पार्टियों को जनता की चिंता नहीं है, उन्हें तो अपनी राजनीति की चिंता है. अमित शाह की मानें तो केवल राजनीति की वजह से जम्मू-कश्मीर की जनता तक केंद्र की तमाम योजनाएं नहीं पहुंच पाईं और इसके लिए केवल तीन पार्टियां जिम्मेदार हैं. (Photo: File)
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 4/9
उन्होंने कहा कि जब देशभर में परिसीमन हुआ तो इन तीनों पार्टियां ने कह दिया कि J&K में परिसीमन नहीं होगा. ऐसा कैसे हो सकता है? जब आबादी बढ़ती है कि प्रतिनिधियों की संख्या भी बढ़ती हैं. लेकिन इन तीन पार्टियों ने वोट बैंक की वजह से ऐसा नहीं होने दिया. संसद में अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटते ही परिसीमन किया जा सकेगा. (Photo: File)
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 5/9
गृह मंत्री ने कहा कि जल कल्याण का जो पैसा केंद्र से गया उससे जनता का पूरा विकास नहीं हुआ, क्योंकि 370 की आड़ में भ्रष्टाचार चलता रहा. यह पैसा कहां गया, इसी 370 को ढाल बनाकर भ्रष्टाचार करने का काम वहां के नेताओं ने किया है. (Photo: File)
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 6/9
अपने बयान में अमित शाह ने कहा, 'तीन पार्टियों को 370 की चिंता नहीं है, बल्कि राष्ट्रपति शासन में खुलने वाली फाइलों की चिंता है. क्योंकि राष्ट्रपति शासन के दौरान जम्मू-कश्मीर में ACB के हाथ कुछ फाइलें लगी हैं, जिस वजह से इन्हें ठंड में भी पसीने आने लगे हैं'. दरअसल एसीबी ने पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से जम्मू एंड कश्मीर बैंक में नियुक्तियों को लेकर उनसे सवाल-जवाब किया है. (Photo: File)
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 7/9
इसके अलावा अमित शाह ने कहा कि जैसे ही जम्मू एंड कश्मीर बैंक में एडमिनिस्ट्रेटर आए तो अब कुछ लोग परेशान हो गए. इसमें परेशान होने क्या जरूरत है. जब आपने कोई गड़बड़ी नहीं की है तो फिर घबरा क्यों रहे हैं. खुद का हवाला देते हुए अमित शाह ने कहा कि पूरे देश में ACB है, हम पक्ष में रहें या विपक्ष में, हमें कोई चिंता नहीं है.
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 8/9
जब लोकसभा में कांग्रेस सांसद ने अमित शाह से पूछा कि आप किन तीन परिवार की बात कर रहे हैं, उनके बारे में तो बता दीजिए. जिसके जवाब में अमित शाह ने कहा कि अगर तीन परिवारों के नाम बता दूंगा तो तिलमिला जाएंगे, पूरा देश जानता है कि वो कौन तीन परिवार हैं. (Photo: File)
इन 3 परिवारों को ठंड में भी आ रहे पसीने, वजह 370 नहीं: शाह
  • 9/9
अमित शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर पृथ्वी का स्वर्ग था, है और रहेगा. उन्होंने कहा कि अटलजी पूरे जीवन 370 के खिलाफ लड़े हैं और जेल भी गए थे. आज अटलजी की पार्टी के ही नरेंद्र मोदी को पूर्ण बहुमत मिला और अनुच्छेद 370 हटाया जा रहा है. (Photo: Pankaj Nangia)