scorecardresearch
 

वाराणसी: ज्ञानवापी केस में मुस्लिम पक्ष के वकील अभयनाथ यादव का हार्टअटैक से निधन

श्रृंगार गौरी और ज्ञानवापी केस में सभी पक्ष पोषणीयता के मुद्दे पर पूरी बहस कर चुके हैं. अब 4 अगस्त को मुस्लिम पक्ष की ओर से प्रत्युत्तर रखा जाना था, जिसमें मुस्लिम पक्ष के वकील अभय नाथ यादव की अहम भूमिका होती.

X
अभय नाथ यादव मुस्लिम पक्ष की तरफ से अधिवक्ता थे. अभय नाथ यादव मुस्लिम पक्ष की तरफ से अधिवक्ता थे.

वाराणसी से बड़ी खबर है. यहां श्रृंगार गौरी और ज्ञानवापी केस में मुस्लिम पक्ष के अधिवक्ता अभय नाथ यादव का निधन हो गया है. यादव को देर रात हार्ट अटैक आया. उसके बाद परिजन अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.

बताते चलें कि श्रृंगार गौरी और ज्ञानवापी केस में सभी पक्ष पोषणीयता के मुद्दे पर पूरी बहस कर चुके हैं. अब 4 अगस्त को मुस्लिम पक्ष की ओर से प्रत्युत्तर रखा जाना था, जिसमें मुस्लिम पक्ष के वकील अभय नाथ यादव की अहम भूमिका होती.

हिंदू पक्ष से हरिशंकर जैन पक्ष रख रहे

ज्ञानवापी मामले में हिंदू पक्ष से हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन पक्ष रख रहे हैं. हिंदू पक्ष अपनी दलील और मुस्लिम पक्ष से वकील अभय नाथ यादव भी दावे के बिंदुओं पर बहस पूरी कर चुके हैं. इस मामले की वाराणसी में जिला जज एके विश्वेश की अदालत में सुनवाई चल रही है.

सुप्रीम कोर्ट में अक्टूबर में होगी सुनवाई

वहीं, इस मामले में अब सुप्रीम कोर्ट अक्टूबर महीने के अगले हफ्ते में सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा था कि अभी उस मामले में निचली अदालत में सुनवाई चल रही है, इसलिए इस पर हम अभी सुनवाई नहीं करेंगे. जस्टिस चंद्रचूड़, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस नरसिम्हा की पीठ इस मामले की सुनवाई कर रही है.

यह है मामला

दरअसल, ज्ञानवापी मस्जिद परिसर के वजूखाने में एक संरचना मिली है, जिसको लेकर हिंदू पक्ष का कहना है कि ये शिवलिंग है तो मुस्लिम पक्ष कह रहा है कि यह फव्वारा है. इस की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वाराणसी जिला कोर्ट में चल रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें