scorecardresearch
 

जावड़ेकर बोले- महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी नहीं महा वसूली अघाड़ी की सरकार

प्रकाश जावड़ेकर ने महाराष्ट्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पुलिस के द्वारा पैसे इकट्ठा करने लूट और वसूली का काम चल रहा था. इसीलिए सब दल इकट्ठा है और यह सब पुलिस के माध्यम से करवाया जा रहा था.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उद्धव ठाकरे सरकार पर निशाना साधा (पीटीआई) केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उद्धव ठाकरे सरकार पर निशाना साधा (पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'पुलिस के माध्यम से करवाई जा रही वसूली'
  • 'शिवसेना के नेता सचिन वाजे की तारीफ कर रहे'
  • लूट के अलावा महाराष्ट्र में क्या चल रहाः जावड़ेकर

सचिन वाजे प्रकरण पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि महाराष्ट्र सरकार को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है. उसे तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए. जिस ढंग से सचिन वाज़े का पूरा मामला सामने आया है उसको देखते हुए साफ है कि महाराष्ट्र की सरकार का जो गठबंधन हुआ वह लूट करने के लिए हुआ था. वसूली के लिए हुआ था और शिवसेना के नेता किस प्रकार से सचिन वाजे को बचा रहे थे.

उन्होंने उद्धव ठाकरे पर भी हमला करते हुए कहा कि चाहे वह उद्धव ठाकरे हों चाहे संजय राउत, वे तो सचिन वाजे की तारीफ कर रहे थे. महाराष्ट्र में हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं. एक बात साफ है कि महा विकास अघाड़ी नहीं अब महा वसूली अघाड़ी की सरकार है.

जावड़ेकर ने कहा कि पुलिस के द्वारा पैसे इकट्ठा करने लूट और वसूली का काम चल रहा था. इसीलिए सब दल इकट्ठा है और यह सब पुलिस के माध्यम से करवाया जा रहा था. उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के कहने पर सचिन वाजे को दोबारा लाया गया. महाराष्ट्र में कैसी स्थिति बन गई है. पुलिस वहां गाड़ियों में बम रख रही है, जिस गाड़ी में बम रखा गया उसके मालिक की हत्या हो गई. परमबीर सिंह की चिट्ठी आती है. सीबीआई जांच होती है वहां के गृह मंत्री का इस्तीफा होता है.

सचिन वाजे और शिवसेना में करीबी रिश्ताः जावड़ेकर

सचिन वाजे और शिवसेना के बीच करीबी रिश्ते होने पर निशाना साधते हुए जावड़ेकर ने कहा कि वाजे की गाड़ी, कलाकारी हर रोज खुलासे हो रहे हैं. वाजे और शिवसेना का रिश्ता क्या है मुख्यमंत्री खुद सचिन वाजे की तारीफ करते हैं. उसके बचाव में आते हैं. सचिन वाजे सच ना बोले. इसलिए शिवसेना के नेता उसकी तारीफ कर रहे हैं. शिवसेना के नेताओं को जवाब देना चाहिए.

उन्होंने कहा कि लूट के अलावा महाराष्ट्र में क्या चल रहा है. यह गठबंधन चुनाव में जीतकर नहीं आया. चुनाव में तो बीजेपी-शिवसेना नरेंद्र मोदी की फोटो लगाकर जीते थे. बाद में शिवसेना ने वहां की जनता के साथ धोखा किया और जो वहां सरकार बनी उनका एक ही कार्यक्रम था लूट.

इस बीच वैक्सीन वितरण को लेकर विवाद पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि महाराष्ट्र में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है. जरूरत के हिसाब से केंद्र सरकार सबको वैक्सीन देती है. लेकिन वितरण करना राज्य सरकारों का काम है. वहां की सरकार ने 5 लाख डोज खराब कर दी है क्योंकि उनकी कोई प्लानिंग नहीं थी. अपनी कमियों के लिए दूसरों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें