scorecardresearch
 

UKSSSC पेपर लीकः एक्शन में STF, मास्टरमाइंड समेत 2 पर घोषित किया 25-25 हजार का इनाम

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की स्नातक स्तरीय परीक्षा का पेपर लीक हो गया था. इस मामले में सीएम धामी की ओर से सख्त कार्रवाई के निर्देश के बाद उत्तराखंड STF भी एक्टिव मोड में आ गई है. उत्तराखंड STF ने पेपर लीक के सरगना समेत दो आरोपियों के खिलाफ 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया है. दोनों ही उत्तर प्रदेश के निवासी बताए जा रहे हैं. 

X
UKSSSC पेपर लीक के सरगना समेत दो पर इनाम घोषित
UKSSSC पेपर लीक के सरगना समेत दो पर इनाम घोषित

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग यानी (UKSSSC) की परीक्षा से पहले ही पर्चा लीक हो गया था. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पेपर लीक केस को लेकर विवाद बढ़ने पर इसे लेकर खुद समीक्षा बैठक की थी और परीक्षा रद्द करने का ऐलान किया था. अब इसे लेकर उत्तराखंड की स्पेशल टास्क फोर्स यानी एसटीएफ भी एक्शन में आ गई है.

एसटीएफ ने यूकेएसएसएससी पेपर लीक के सरगना और उसके साथी के खिलाफ इनाम घोषित किया है. यूकेएसएसएससी के सरगना और उसके साथी के खिलाफ एसटीएफ ने 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है. एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) ने पेपर लीक के सरगना और उसके साथी के खिलाफ इनाम की घोषणा की है.

उत्तराखंड एसटीएफ के एसएसपी ने पेपर लीक केस में सैयद सादिक मूसा और योगेश्वर राव के सिर पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है. दोनों ही पड़ोसी उत्तर प्रदेश के निवासी बताए जाते हैं. सैयद सादिक मूसा उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर का रहने वाला है जबकि योगेश्वर राव लखनऊ का निवासी बताया जा रहा है.

स्नातक स्तर के पेपर लीक मामले में अब तक 33 आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है. इनमें से 21 के खिलाफ पुलिस गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज कर चुकी है. कहा जा रहा है कि इनमें से कुछ आरोपियों के पास करोड़ों रुपये की संपत्ति का पता चला है. आरोपियों की चल-अचल संपत्ति जब्त करने की कार्यवाही भी जल्द ही शुरू की जा सकती है.

सीएम ने दिए थे सख्त कार्रवाई के निर्देश

गौरतलब है कि उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद हंगामा मच गया था. अभ्यर्थी लगातार परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे थे. हंगामे के बाद खुद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एक्टिव मोड में आ गए थे. सीएम धामी ने यूकेएसएसएससी पेपर लीक केस को लेकर समीक्षा बैठक की थी और सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पेपर लीक के दोषियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए थे. सीएम धामी ने ये भी कहा था कि दोषियों की संपत्ति जब्त की जाएगी और परीक्षा रद्द कर नए सिरे से चयन प्रक्रिया शुरू की जाएगी. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के बाद उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक (DGP) ने पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें