scorecardresearch
 

ओडिशा: 70 साल की पद्मश्री अवॉर्डी नृत्यांगना से ICU में जबरन डांस कराया, वीडियो वायरल होने के बाद बवाल

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित कमला पुजारी को अस्पताल में जबरन डांस कराने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि एक महिला कार्यकर्ता ने उन्हें ऐसा करने के लिए मजबूर किया. वहीं कमला पुजारी का कहना है कि वह ऐसा करना नहीं चाहती थीं, लेकिन उन्हें मजबूर किया गया. अब परजा आदिवासी समुदाय की मांग है कि सरकार ममता बेहरा के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे.

X
कमला पुजारी (फाइल फोटो)
कमला पुजारी (फाइल फोटो)

ओडिशा में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित कमला पुजारी को हॉस्पिटल से छुट्टी मिलने से पहले डांस करने के लिए मजबूर किया. इस घटना के बाद परजा आदिवासी समुदाय में आक्रोश व्याप्त हो गया है. आदिवासी समुदाय ने कमला पुजारी के साथ हुए इस व्यवहार को लेकर न सिर्फ आपत्ति जताई है. बल्कि उन्हें डांस के लिए मजबूर करने वाली महिला कार्यकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है. इसमें 70 साल की महिला सरकारी अस्पताल के ICU में डांस करती हुईं नजर आ रही हैं. इस वीडियो में सोशल वर्कर भी उनके साथ डांस करती दिखीं. बैकग्राउंड में म्यूजिक बज रहा था. हालांकि ये घटना ये घटना सोमवार की है, जब उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जा रही थी.

समुदाय में आक्रोश


कोरापुट में आदिवासी समुदाय के परजा समाज के अध्यक्ष हरीश मुदुली ने कहा कि सामाजिक कार्यकर्ता की पहचान ममता बेहरा के रूप में हुई है. उन्होंने कहा कि अगर सरकार ममता के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है तो समुदाय के सदस्य सड़क पर उतरेंगे.

क्या कहा कमला पुजारी ने
 

एजेंसी के मुताबिक कमला पुजारी ने कहा कि मैं कभी भी ऐसा करना नहीं चाहती थी, लेकिन मुझे मजबूर किया गया था. मैं बार-बार मना करती रही, लेकिन उसने (ममता बेहरा) ने मेरी एक भी बात नहीं सुनी. मेरी तबीयत खराब थी, मैं काफी थकी हुई थी, लेकिन वह बार-बार डांस करने की जिद करने लगीं.

क्या कहा ममता बेहरा ने
 

ममता बेहरा ने कहा कि उनका कोई गलत इरादा नहीं था. उन्होंने बुरे इरादे से डांस करने को नहीं कहा था, वह सिर्फ कमला पुजारी की थकान और आलस को दूर करने के लिए डांस करने को कह रही थीं. 

क्या कहा अस्पताल प्रशासन ने
 

अस्पताल के रजिस्ट्रार प्रशासन डॉ. अविनाश राउत ने कहा कि जिस महिला ने कमला पुजारी के साथ डांस किया वह उनसे अक्सर मिलने आया करती थीं. हालांकि जब ये घटना हुई तब अस्पताल की नर्सें वहां नहीं थीं. अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि कमला पुजारी को ICU में नहीं, बल्कि एक विशेष केबिन में भर्ती कराया गया था.

कमला को कब मिला था पद्मश्री
 

कमला पुजारी को 2019 में जैविक खेती को बढ़ावा देने और धान सहित विभिन्न फसलों के स्वदेशी बीजों की 100 से अधिक किस्मों को संरक्षित करने के लिए पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. उन्हें लिवर संबधी समस्या होने के बाद कटक के SCB अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

ये भी देखें


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें