scorecardresearch
 

कानपुर में दावत-ए-इस्लामी की पांच मंजिला इमारत पर चलेगा बुलडोजर? KDA ने दस्तावेज मांगे

कानपुर विकास प्राधिकरण ने गुरुवार को छोटे मियां के हाता में नवनिर्मित दावत-ए-इस्लामी के पांच मंजिला निर्माण के संबंध में नोटिस जारी किया है. ये निर्माण अवैध बताया जा रहा है.

X
कर्नलगंज क्षेत्र में 5 मंजिला इमारत के बाहर इंग्लिश और उर्दू में बड़े-बड़े अक्षरों में दावत-ए-इस्लामी इंडिया लिखा है. कर्नलगंज क्षेत्र में 5 मंजिला इमारत के बाहर इंग्लिश और उर्दू में बड़े-बड़े अक्षरों में दावत-ए-इस्लामी इंडिया लिखा है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कानपुर में दावत-ए-इस्लामी के अवैध निर्माण पर नोटिस जारी किया है
  • KDA ने 15 दिन के अंदर मांगे स्वामित्व दस्तावेज और नक्शा

कानपुर के कर्नलगंज में बने दावत-ए-इस्लामी के दफ्तर की कानपुर विकास प्राधिकरण (KDA) ने जांच शुरू कर दी है. अवैध निर्माण पर KDA ने नोटिस जारी किया है. संगठन को 15 दिनों के भीतर स्वामित्व दस्तावेज और नक्शा दिखाना होगा. इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. माना जा रहा है कि KDA की तरफ से सीलिंग या तोड़फोड़ की कार्रवाई हो सकती है.

जानकारी के मुताबिक, कानपुर विकास प्राधिकरण ने गुरुवार को छोटे मियां के हाता में नवनिर्मित दावत-ए-इस्लामी के पांच मंजिला निर्माण के संबंध में नोटिस जारी किया है. ये निर्माण अवैध बताया जा रहा है. बताया गया कि कर्नलगंज क्षेत्र स्थित गम्मू खां के हाता में इसी साल पांच मंजिला भवन बनाया गया था. 

बता दें कि 27 जून को राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की बेरहमी से हत्या कर दी गई. घटना को अंजाम देने वाले दरिंदे दावत-ए-इस्लामी से जुड़े थे. जांच में ये भी सामने आया था कि दावत-ए-इस्लामी का दफ्तर कानपुर में इसी पांच मंजिला बिल्डिंग से संचालित होता है. 

KDA के विशेष अधिकारी अवनीश सिंह ने आजतक को बताया कि निर्माण को लेकर नोटिस जारी किया गया है. इस भवन में रह रहे लोगों से 15 दिन के अंदर इसके स्वामित्व, नक्शों आदि की जानकारी मांगी गई है. नोटिस के जवाब में जमा किए गए दस्तावेजों की जांच की जाएगी. दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराने पर भी नियमानुसार जांच कराई जाएगी और जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

दो दिन पहले केडीए अधिकारियों ने छोटे मियां के हाता में दावत-ए-इस्लामी की पांच मंजिला इमारत का निरीक्षण किया था. यहां मौजूद लोगों से भवन का नक्शा मांगा गया था. भवन में रहने वाले लोगों को चेतावनी दी गई है कि एक-दो दिन में नक्शा नहीं देने पर नोटिस देकर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी. अवैध निर्माण सीलिंग से लेकर तोड़फोड़ तक हो सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें