scorecardresearch
 

नोएडा में 200 से ज्यादा लड़कियां नाइजीरियन गैंग के जाल में फंसीं और हुईं ठगी का शिकार

साइबर थाने की पुलिस को नोएडा की एक महिला ने शिकायत दी थी और कहा था कि एक शख्स ने सोशल मीडिया के जरिए एक शादी की साइट पर खुद को बेल्जियम की आईटी कंपनी का हेड बताया और उनसे करीब ₹9 लाख रुपए हड़प लिए. पुलिस ने जांच की तो पता चला कि बड़ी गैंग ठगी को अंजाम दे रहा है.

X
नोएडा की साइबर सेल पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया है.
नोएडा की साइबर सेल पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया है.

यूपी के गौतमबुद्धनगर जिले की साइबर सेल ने नाइजीरियन युवक और उसकी महिला साथी को गिरफ्तार किया है. इन दोनों ने नोएडा की 200 से ज्यादा लड़कियों के साथ करोड़ों रुपए की ठगी है. पुलिस ने दोनों से पूछताछ के बाद ठगी का खुलासा किया. उसके बाद जेल भेज दिया है.

यह जोड़ा अपनी फर्जी प्रोफाइल के जरिए लड़कियों को मोहब्बत के जाल में फंसाता था. उन्हें शादी के लिए झांसा देता था और फिर उनसे लाखों रुपए की ठगी को अंजाम देता था. ये दोनों आरोपी साल 2019 में बिजनेस वीजा लेकर भारत आए थे और यहां पर ठगी की वारदात को अंजाम देने लगे.

दरअसल, साइबर थाने की पुलिस को नोएडा की एक महिला ने शिकायत दी थी और उसने कहा था कि एक शख्स ने सोशल मीडिया के जरिए एक शादी की साइट पर खुद को बेल्जियम की आईटी कंपनी का हेड बताया और उनसे करीब ₹9 लाख रुपए हड़प लिए. इस मामले में पुलिस ने जब जांच शुरू की तो पता चला कि एक बड़ी गैंग ठगी को अंजाम दे रहा है.

फर्जी प्रोफाइल बनाकर झांसे मे लेते थे

जांच में ये भी पता चला कि दोनों आरोपी चिदुबेम क्रिश्चियन (Chidubem christian) और सेनेगल (Senegal) खुद को कभी कस्टम अधिकारी, लीगल मैनेजर, सॉफ्टवेयर इंजीनियर की प्रोफाइल बनाकर वेबसाइट पर अपलोड करते थे. ज्यादा उम्र की लड़कियां उनसे दोस्ती करती थीं. 

ज्यादा उम्र की लड़कियों को फंसाते थे

इसके साथ ही ये जो इश्तहार देते थे, वे ज्यादा उम्र की लड़कियों के लिए होते थे. अगर किसी उम्रदराज लड़की को लड़के की जरूरत है तो वो मदद के नाम पर झांसे में लेते थे. और अपनी प्रोफाइल में खूबसूरत लड़कों की तस्वीरों का इस्तेमाल किया करते थे.

एक्साइज ड्यूटी के नाम पर भी करते थे वसूली

आरोपी के साथ पकड़ी गई महिला जालसाजी का काम करती थी और खुद को कस्टम ऑफिसर बताती थी और कहती थी कि आपका एक गिफ्ट आया है और एक्साइज ड्यूटी देनी पड़ेगी. एक्साइज ड्यूटी लेने के बाद यह नंबर ब्लॉक करके फरार हो जाती थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें