scorecardresearch
 

नगालैंड के मंत्री ने शेयर की ट्रेन में मिले खाने की तस्वीर, लोग करने लगे ऐसे-ऐसे कमेंट्स

Bhartiya Railway: अपनी बातों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले नगालैंड के मंत्री तेमजेन इमना का एक ट्वीट काफी वायरल हो रहा है. इस ट्वीट में तेमजेन इमना ने राजधानी ट्रेन में मिले खाने की तस्वीर शेयर की है. इस ट्वीट पर लोग कमेंट्स कर रहे हैं. इनमें से कुछ कमेंट्स का जवाब भी तेमजेन इमना ने दिया है.

X
Nagaland Minister
Nagaland Minister

Indian Railways, Nagaland Minister's Tweet Viral: नगालैंड सरकार में  उच्च शिक्षा और जनजातीय मामलों मंत्री तेमजेन इमना अपनी हाजिर-जवाबी को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं. वे अपने ट्विटर अकाउंट पर भी काफी एक्टिव रहते हैं. इसी कड़ी में उनके एक और ट्वीट ने लोगों का ध्यान खींचा है. तेमजेन इमना ने अपने ट्विटर अकाउंट पर राजधानी एक्सप्रेस में मिले भोजन की तस्वीरें साझा कीं. तेमजेन इमना का ट्वीट देखते ही देखते वायरल हो गया और लोगों ने कमेंट्स की झड़ी लगा दी. 

तेमजेन इमना के ट्वीट पर कई लोगों ने मजे लिए तो कई लोगों ने रेलवे के खाने की क्वालिटी के बारे में बात की. एक ट्विटर यूजर ने तेमजेन इमना से पूछा- आपके लिए ये खाना पूरा हो जाएगा? इसका मजेदार जवाब देते हुए तेमजेन इमना ने लिखा कि नहीं, मैंने औरों का भी लिया था. वहीं, एक ट्विटर यूजर ने तेमजेन इमना से पूछा कि क्या आप डाइटिंग में विश्वास रखते हैं? इसका भी मंत्री ने जवाब दिया. 

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, "गुवाहाटी से दीमापुर जाते समय राजधानी एक्सप्रेस में शानदार डिनर के लिए आभारी हूं." इस ट्वीट में उन्होंने ट्रेन में मिले खाने की फोटो भी साझा की. तेमजेन इमना के इस ट्वीट पर रेल सेवा के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से रिप्लाई भी आया. रेल सेवा ने मंत्री के ट्वीट पर उन्हें धन्यवाद कहा. उन्होंने लिखा, "सर, हमें लिखित में अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद. हालांकि आपकी प्रतिक्रिया से हमारी टीम की ऊर्जा को और अधिक उत्साह के साथ काम करने के लिए बढ़ावा मिलेगा."

बता दें, तेमजेन इमना अपनी बातों को लेकर लोगों के बीच चर्चा में रहते हैं. इससे पहले एक कार्यक्रम में छोटी आंखों का फायदा बताते हुए तेमजेम ने कहा था कि कहा जाता है कि पूर्वोत्तर के लोगों की आंखें छोटी होती हैं. भले ही हमारी आंखें छोटी होती हैं, मगर हम दूर तक और अच्छी तरह से देख सकते हैं. आंखें छोटी होने से गंदगी कम घुसती है और जब कभी कोई कार्यक्रम लंबे समय तक चलता है, तो हम मंच पर आसानी से सो भी जाते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें