scorecardresearch
 

एन बीरेन सिंह लगातार दूसरी बार बने मणिपुर के मुख्यमंत्री, राजभवन में ली शपथ

एन बीरेन सिंह ने लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. 21 मार्च को राजभवन में आयोजित कार्यक्रम में एन बीरेन सिंह को राज्यपाल ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.

X
एन बीरेन सिंह ने राजभवन में ली मुख्यमंत्री पद की शपथ (फोटो- एएनआई) एन बीरेन सिंह ने राजभवन में ली मुख्यमंत्री पद की शपथ (फोटो- एएनआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राज्यपाल ने दिलाई पद एवं गोपनीयता की शपथ
  • एन बीरेन सिंह के साथ 5 मंत्रियों ने भी ली शपथ

एन बीरेन सिंह लगातार दूसरी बार मणिपुर के मुख्यमंत्री बन गए हैं. एन बीरेन सिंह ने अपने दूसरे कार्यकाल के लिए 21 मार्च को राजभवन में आयोजित कार्यक्रम में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली. इसके साथ ही मणिपुर में एन बीरेन सिंह सरकार 2.0 का आधिकारिक आगाज हो गया है.

राजधानी इंफाल स्थित राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल एल गणेशन ने एन बीरेन सिंह को मणिपुर के मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के साथ पांच मंत्रियों ने भी शपथ ली. बिस्वजीत सिंह, वाई खेमचन सिंह, नेम्चा किपगेन, अवंगबोउ नेवमाई और गोविंदास कोंथौजम ने मंत्री पद की शपथ ली है.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और मणिपुर प्रदेश अध्यक्ष अधिकारी मायुम शारदा देवी भी मौजूद रहीं. गौरतलब है कि एक दिन पहले ही एन बीरेन सिंह को बीजेपी विधायकों ने विधायक दल का नेता चुना था. 20 मार्च को मणिपुर बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई थी जिसमें केंद्रीय पर्यवेक्षक निर्मला सीतारमण और सह पर्यवेक्षक किरेन रिजिजू भी मौजूद थे.

केंद्रीय पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में एन बीरेन सिंह को विधायक दल का नेता चुना गया था. बता दें कि मणिपुर विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी की है. बीजेपी को सूबे की कुल 60 में से 32 सीटों पर जीत मिली थी. 2017 में भी बीजेपी ने सरकार बनाई थी और एन बीरेन सिंह मुख्यमंत्री बने थे. हालांकि, तब बीजेपी सूबे की विधानसभा में दूसरे नंबर की पार्टी थी. बीजेपी को 21 सीटों पर जीत मिली थी.

सबसे बड़े दल के रूप में तब कांग्रेस उभरी थी. कांग्रेस 28 सीटें जीतकर बहुमत के लिए जरूरी 31 सीट के जादुई आंकड़े से पीछे रह गई थी. तब बीजेपी ने एनपीपी और एनपीएफ के साथ गठबंधन कर सरकार बना ली थी. हालांकि, इस दफे बीजेपी ने अकेले दम चुनाव लड़ा था और बहुमत प्राप्त कर लिया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें