scorecardresearch
 

फर्जी फेसबुक आईडी, जिसके चक्कर में दो महिलाओं ने दी जान, तीसरी पर नवजात की हत्या का आरोप

फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बना कर किसी के साथ चैट करने का कितना खतरनाक नतीजा निकल सकता है, यह केरल के कोल्लम के एक परिवार की कहानी से पता चलता है. जिन दो महिलाओं ने फर्जी प्रोफाइल बनाया था, उन दोनों ने खुदकुशी कर ली.

X
रेशमा, आर्या, ग्रीष्मा (Photo: Sree)
रेशमा, आर्या, ग्रीष्मा (Photo: Sree)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फर्जी आईडी बनाने वाली दो युवतियों ने की खुदकुशी
  • फेक आईडी के चक्कर में परिवार तबाह
  • पुलिस ने एक महिला को किया अरेस्ट

फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर किसी के साथ चैट करना कितना खतरनाक हो सकता है, यह केरल के कोल्लम के एक परिवार की कहानी से पता चलता है. इस पूरे घटनाक्रम की किरदार तीन महिलाएं रहीं. जिन दो महिलाओं ने फर्जी प्रोफाइल बनाया था, उन दोनों ने खुदकुशी कर ली. जिस महिला के साथ फर्जी आईडी से चैटिंग की गई, उसे एक दिन के अपने नवजात बच्चे की हत्या के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया है.  

यह रियल लाइफ मिस्ट्री शुरू होती है, इस साल पांच जनवरी को, तब एक दिन के नवजात का शव कोल्लम के कल्लुवथुक्कल के पास एक गड्ढे से मिला था. बच्चे को गड्ढे में डालकर ऊपर से सूखी पत्तियों से ढक दिया गया था. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ इस मामले में केस दर्ज किया था. इस पूरे मामले में पुलिस ने अब जो खुलासा किया है, वह हैरान कर देने वाला है.  

केरल के कोल्लम में विष्णु नाम के शख्स के परिवार की दो युवतियों-आर्या और ग्रीष्मा- ने फेसबुक पर 'अनंथु' नाम से फर्जी अकाउंट बनाया. आर्या रिश्ते में विष्णु की भाभी और ग्रीष्मा उसकी भतीजी थी. विष्णु की पत्नी का नाम रेशमा है. 'अनंथु' नाम से फर्जी प्रोफाइल बनाकर आर्या और ग्रीष्मा ने रेशमा से चैट करना शुरू कर दिया. करीब डेढ़ साल तक यह चैटिंग चलती रही.   

यह भी पढ़ें: UP: पत्नी के जीजा के घर जाने से भड़का पति, सास-ससुर पर उतारा गुस्सा, पहुंचे अस्पताल 

घर बसाने के लिए पति को ही छोड़ दिया

रेशमा ने हमेशा यही समझा कि 'अनंथु' कोई पुरुष है और उससे दोस्ती करना चाह रहा है. रेशमा पर 'अनंथु' का रंग इतना गहराया कि उसने उसके साथ घर बसाने के लिए अपने पति विष्णु को ही छोड़ने का फैसला कर लिया.  लेकिन रेशमा की कोख में विष्णु की निशानी पल रही थी. पुलिस के मुताबिक बच्चे के जन्म लेते ही रेशमा ने उसे गड्ढे में दबाकर ऊपर से पत्तियों से ढक दिया. ये सब उसने इसलिए किया कि 'अनंथु' के साथ घर बसाने में कोई दिक्कत नहीं हो. वो 'अनंथु' जिसे वो कभी नहीं मिली थी, बस फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल वाली आईडी पर चैट करते करते ही उसकी मुरीद हो गई थी. 

पुलिस के सामने जुर्म कबूल करने के बाद 22 जून को रेशमा को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस साइंटिफिक जांच के बाद इस केस में 22 साल की रेशमा तक पहुंची थी. रेशमा ने कबूल किया कि उसी ने अपने बच्चे को ज़मीन में दबाया था. रेशमा ने पुलिस को बताया कि उसने 'अनंथु' के साथ घर बसाने के लिए ये सब किया. रेशमा को ये नहीं पता था कि उसके घर की दो सदस्य ही उसके साथ फर्जी आईडी से ये सारा खिलवाड़ कर रही हैं. 

पुलिस ने 200 एफबी अकाउंट्स खंगाले

पुलिस ने फिर 'अनंथु' को तलाशना शुरू किया. इसके लिए कम से कम 200 फेसबुक अकाउंट्स को खंगाला गया. पुलिस की इस तलाश की भनक ग्रीष्मा और आर्या को मिली तो उन्हें डर लगने लगा कि उनके किए का सारी दुनिया के सामने खुलासा हो जाएगा. पुलिस के मुताबिक इसी डर के चलते ग्रीष्मा और आर्या लापता हो गईं और फिर दोनों ने खुदकुशी कर ली.  

लापता होने से पहले ग्रीष्मा ने अपने एक दोस्त को फोन पर बताया था कि फर्जी प्रोफाइल के जरिए रेशमा के साथ क्या किया गया था. उसके बाद दोस्त ने ग्रीष्मा को कई बार कॉल करने की कोशिश की लेकिन उसका फोन हमेशा स्विच ऑफ आया. पुलिस ने ग्रीष्मा के इस दोस्त का बयान भी दर्ज किया है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें