scorecardresearch
 

ठेकों में 40% कमीशन का आरोप लगा कॉन्ट्रैक्टर ने की खुदकुशी, कर्नाटक के मंत्री पर FIR

Contractor Santosh Patil Suicide: कर्नाटक में मंत्री और बीजेपी नेता ईश्वरप्पा (Eshwarappa) पर FIR हुई है. यह मामला कॉन्ट्रैक्टर संतोष पाटिल के सुसाइड केस से जुड़ा है.

X
कॉन्ट्रैक्टर संतोष पाटिल (फाइल फोटो)
कॉन्ट्रैक्टर संतोष पाटिल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • संतोष पाटिल के भाई की शिकायत पर FIR
  • सोमवार को उडुपी के लॉज में मृत मिले थे संतोष

Contractor Santosh Patil Suicide: ठेकेदार संतोष पाटिल के चर्चित सुसाइड केस में कर्नाटक के मंत्री ईश्वरप्पा (Eshwarappa) पर FIR दर्ज हो गई है. FIR में मंत्री ईश्वरप्पा के साथी बसवराज और रमेश का भी नाम है. यह FIR ठेकेदार संतोष पाटिल के भाई प्रशांत की शिकायत के बाद हुई है. इससे पहले संतोष पाटिल ने खुद पीएम मोदी को एक पत्र लिखकर ईश्वरप्पा पर आरोप लगाए थे. कहा गया था कि मंत्री ईश्वरप्पा ने उनसे काम के बदले 40 फीसदी कमीशन की मांग की थी.

पाटिल ने कुछ दिनों पहले पीएम मोदी को जो पत्र लिखा था वह भी चर्चा में था. इसमें उन्होंने ईश्वरप्पा पर आरोप लगाए थे कि वह उनके बकाया बिल क्लियर करने के बदले में कमीशन मांग रहे हैं. उन्होंने बीजेपी नेता ईश्वरप्पा पर झूठ बोलने, भ्रष्टाचार और अनियमितता करने के आरोप लगाए थे. ईश्वरप्पा ने पीएम मोदी से गुजारिश की थी कि वह उनका बकाया पैसा किसी तरह दिलवा दें.

तब ईश्वरप्पा की इसपर सफाई भी आई थी. उन्होंने ठेकेदार के आरोपों को गलत बताया था और मानहानि का केस करने की धमकी भी दी थी.

संतोष पाटिल ने दोस्त को किया था वॉट्सऐप मेसेज

संतोष पाटिल सोमवार को उडुपी शहर में मृत मिले थे. इससे कुछ वक्त पहले ही संतोष पाटिल ने अपने दोस्त को एक वॉट्सऐप मैसेज किया था. इसमें उन्होंने मंत्री को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया था. संतोष पाटिल ने लिखा था, 'ईश्वरप्पा मेरी मौत के जिम्मेदार हैं. उनको सजा मिलनी चाहिए. मैंने अपनी सभी इच्छाओं का त्याग करके यह कदम उठाने का मन बनाया है. मेरी पीएम, सीएम और येदियुरप्पा से गुजारिश है कि वह मेरे परिवार का ख्याल रखें.'

संतोष के भाई प्रशांत पाटिल ने भी आरोप लगाया था कि मंत्री ने उनके भाई से कमीशन मांगी थी और फिर मानहानि का केस भी किया. परिवार से बातचीत के बाद पुलिस को पता चला था कि 11 अप्रैल को वह पत्नी से कहकर निकले थे कि वह दोस्तों के साथ पिकनिक पर जा रहे हैं. इसके बाद उनकी कोई सूचना नहीं आई. फिर सोमवार को ही उडुपी के लॉज में वह मृत मिले. उसी बिल्डिंग के अलग कमरों में उसके दो दोस्त भी मौजूद थे.

सुसाइड के बाद मामला आग की तरह फैल गया. फिर इसपर कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई को भी बयान आया था. उन्होंने जांच के आदेश दिए थे और कहा था कि सरकार मामले में कोई हस्तक्षेप नहीं करेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें