scorecardresearch
 

Indian Railway: महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह की यादें होंगी ताज़ा, आज से चल रही ये स्पेशल ट्रेन

Special Train: समस्तीपुर रेलमंडल ने महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह को याद करते हुए स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है. इस ट्रेन को आज, 23 जुलाई को मुज़फ़्फ़रपुर स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर बापूधाम मोतिहारी के लिए रवाना किया जाएगा.

X
Indian Railway Celebrates Azadi Ka Amrit Mahotsav Indian Railway Celebrates Azadi Ka Amrit Mahotsav
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 9 बजे के करीब मोतिहारी स्टेशन पहुंचेगी ये स्पेशल ट्रेन
  • अनोखे अंदाज में सजाई गई है ये ट्रेन

Azadi Ka Amrit Mahotsav, Indian Railway Special Train: रेलवे आज़ादी के 75वें अमृत महोत्सव पर आइकॉनिक वीक मना रहा है. इसी कड़ी में समस्तीपुर रेलमंडल ने महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह पर एक स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है. इस ट्रेन को आज, 23 जुलाई को मुजफ्फरपुर स्टेशन से सुबह 7 बजे हरी झंडी दिखाकर बापूधाम मोतिहारी के लिए रवाना किया जाएगा. समस्तीपुर रेलमंडल के बापूधाम मोतिहारी से महात्मा गांधी द्वारा चंपारण सत्याग्रह शुरू किया गया था. इसी को याद करते हुए समस्तीपुर रेलमंडल ने एक स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है. 

इस ट्रेन को अनोखे अंदाज में सजाया गया है. ट्रेन की बोगियों के अंदर महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह से जुड़ी तस्वीरों को लगाया गया है. महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह से जुड़ी तस्वीरों के माध्यम से ट्रेन के अंदर यादों को ताज़ा करने की कोशिश की गई है. ट्रेन में महात्मा गांधी के स्लोगन आदि को भी लगाया गया है. खास बात यह है कि ट्रेन के बाहरी हिस्से को तिरंगे का खूबसूरत रूप दिया गया है.

बापूधाम मोतिहारी के लिए चलेगी ट्रेन
समस्तीपुर रेलमंडल ने अमृत महोत्सव के समापन के दिन, 23 जुलाई को महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह की यादों से जुड़ी ट्रेन को मुजफ्फरपुर स्टेशन से 7 बजे बापूधाम मोतिहारी स्टेशन के लिए रवाना करने का फैसला लिया है. यह ट्रेन 9 बजे के करीब मोतिहारी स्टेशन पहुंचेगी. इसके बाद इसे प्रदर्शनी के रूप में 45 मिनट तक रखा जाएगा. मोतिहारी स्टेशन पर इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमें समस्तीपुर के डीआरएम आलोक अग्रवाल के साथ अधिकारियों की टीम शिरकत करेगी. इस चंपारण सत्याग्रह की याद को ताजा करने में स्वतंत्रता सेनानी और उनके परिजन भी उपस्थित रहेंगे.

1917 में महात्मा गांधी चंपारण सत्याग्रह में आए थे
आज़ादी के स्वतंत्रता संग्राम में महात्मा गांधी का चंपारण सत्याग्रह एक महत्वपूर्ण स्थान था, जो समस्तीपुर रेलमंडल के मोतिहारी स्टेशन से जुड़ा हुआ है. महात्मा गांधी 10 अप्रैल 1917 को बिहार आये थे. पटना से बापू अगले दिन मुज़फ़्फ़रपुर पहुंचे थे. यहीं पर डॉ राजेन्द्र प्रसाद से उनकी पहली मुलाकात हुई थी. महात्मा गांधी ने कमिश्नर से इजाजत नहीं मिलने के बावजूद भी ट्रेन से 15 अप्रैल 1917 को चंपारण की धरती पर कदम रखा. यहां किसानों का भरपूर सहयोग मिला और अहिंसक तरीके से लड़ाई लड़ी गई थी. इसलिए आज़ादी के अमृत महोत्सव में चंपारण के मोतिहारी स्टेशन का काफी महत्व है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें