scorecardresearch
 

वर्ल्ड क्लास बनेंगे देश के ये 3 बड़े रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट जैसी मिलेंगी सुविधाएं, वीडियो में देखें नया लुक

रेल मंत्रालय के मुताबिक, नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस-मुंबई रेल स्टेशन और अहमदाबाद रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने की तैयारी है. इसके लिए कैबिनेट ने 10,000 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी है. रेलवे स्टेशन के मॉडल और डिजाइन को देखकर किसी एयरपोर्ट और मॉल जैसा अहसास हो रहा है. पुनर्विकास के बाद इन तीनों रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं मिलेंगी.

X
Representation Image Of Redeveloped Railway Station
Representation Image Of Redeveloped Railway Station

Redevelopment of Railway Stations: देश के तीन बड़े रेलवे स्टेशनों का कायापलट होने वाला है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नई दिल्ली, अहमदाबाद और छत्रपति शिवाजी टर्मिनस-मुंबई रेल स्टेशनों के पुनर्विकास के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. दस हजार करोड़ रुपये की लागत से इन स्टेशनों का पुनर्विकास किया जाएगा. रेल मंत्रालय के मुताबिक, लुक बदलने के साथ ही नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस-मुंबई रेल स्टेशन और अहमदाबाद रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को वर्ल्ड क्लास सुविधाएं मिलेंगी.

रेल मंत्रालय की ओर से प्रस्तावित रेलवे स्टेशन के मॉडल और डिजाइन को देखकर किसी एयरपोर्ट और मॉल जैसा अहसास हो रहा है. आधुनिक सुविधाओं से लैस इन रेलवे स्टेशन पर वर्ल्ड क्लास एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं मिलेंगी.

रेल मंत्रालय के मुताबिक, 199 स्टेशनों के पुनर्विकास का काम चल रहा है. इनमें से 47 स्टेशनों के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं. बाकी स्टेशनों के लिए मास्टर प्लानिंग और डिजाइन का काम चल रहा है.

32 स्टेशनों पर तेजी से काम हो रहा है. कैबिनेट ने बुधवार, 29 सितबंर को नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी), मुंबई और अहमदाबाद रेलवे स्टेशनों के लिए 10,000 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी है.

ऐसा दिखाई देगा छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी), मुंबई रेलवे स्टेशन


वर्ल्ड क्लास इन तीनों रेलवे स्टेशन पर मिलेंगी ये सुविधाएं...

- इन रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं के साथ खुदरा, कैफेटेरिया, मनोरंजन सुविधाओं के लिए एक विशाल रूफ प्लाजा होगा.
- रेलवे ट्रैक के दोनों ओर स्टेशन भवन के साथ शहर के दोनों किनारों को स्टेशन से जोड़ा जाएगा.
- फूड कोर्ट, वेटिंग लाउंज, बच्चों के खेलने की जगह, स्थानीय उत्पादों के लिए जगह आदि सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी.
- शहर के भीतर स्थित स्टेशनों में सिटी सेंटर जैसी जगह होगी.
- स्टेशनों को आरामदेह बनाने के लिए, पर्याप्त रोशनी, लिफ्ट/एस्कलेटर/ट्रेवलेटर्स होंगे.

ऐसा दिखाई देगा नई दिल्ली रेलवे स्टेशन


- पर्याप्त पार्किंग सुविधाओं के साथ यातायात के सहज संचालन के लिए मास्टर प्लान तैयार किया गया है.
- परिवहन के अन्य साधनों जैसे मेट्रो, बस आदि के साथ एकीकरण होगा.
- सौर ऊर्जा, जल संरक्षण/रिसाइकिलिंग और बेहतर ट्री कवर के साथ ग्रीन बिल्डिंग तकनीक का उपयोग किया जाएगा.

पुनर्विकास के बाद ऐसा दिखेगा अहमदाबाद रेलवे स्टेशन


- दिव्यांगजनों के अनुकूल सुविधाएं उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा.
- इन स्टेशनों को इंटेलिजेंट बिल्डिंग की अवधारणा पर विकसित किया जाएगा.
- सीसीटीवी और एक्सेस कंट्रोल लगाने से रेलवे स्टेशन सुरक्षित रहेंगे.
 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें