scorecardresearch
 

यूपी में तेज बारिश से हाल बेहाल, येलो अलर्ट के बाद कई जिलों में आज भी बंद रहेंगे स्कूल 

यूपी में पिछले कुछ दिनों से तेज बारिश हो रही है. राज्य के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. कई एकड़ फसल बर्बाद हो गई है, कई गांवों का संपर्क टूट गया है. घर ढहने की घटनाएं बढ़ रही हैें. कई शहरों में जलभराव की स्थिति हो गई है. शुक्रवार को भी तेज बारिश हुई. मौसम विभाग ने शनिवार के लिए भी अलर्ट जारी किया है, जिसके चलते कई जिलों में स्कूल बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं.

X
बारिश के कारण कई जगह जाम की स्थिति हो गई (पीटीआई)
36:58
बारिश के कारण कई जगह जाम की स्थिति हो गई (पीटीआई)

यूपी-एनसीआर में शुक्रवार को भी जमकर बारिश हुई. पिछले तीन दिनों से रह-रहकर हो रही बारिश से कई जिलों में जलभराव हो गया है.

वहीं बारिश को देखते हुए नोएडा, उन्नाव, सीतापुर, फर्रखाबाद, इटावा, अलीगढ़ और मेरठ में शनिवार को भी पहली कक्षा से 8वीं तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे. आज भी जिले में सभी स्कूलों को बंद रखा गया था. मौसम विभाग ने दिल्ली एनसीआर समेत यूपी के कई जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है. इसी अलर्ट के चलते की स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है.

नोएडा की आम सड़कों के अलावा सरकारी बिल्डिंगों और न्यायालय में भी पानी भर गया है. गौतमबुद्धनगर जिला कलेक्ट्रेट का जलजमाव का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि कैसे लोग हाथों में चप्पल-जूते लेकर पानी में घुसकर निकल रहे हैं.

प्रयागराज: बिजली गिरने से 3 की मौत, मस्जिद क्षतिग्रस्त

प्रयागराज में मूसलाधार बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत हो गई जबकि 2 लोग घायल हो गए हैं. इसके अलावा आकाशीय बिजली करछना इलाके में एक पेड़ पर गिरी.

बहादुरगंज इलाके की बड़ा दारा की शाही मस्जिद के गुंबद पर बिजली गिरने से गुंबद क्षतिग्रस्त हो गया. कीडगंज इलाके के एक मकान पर बिजली गिरी. हालांकि उसे कोई नुकसान नहीं हुआ है.

इसके अलावा प्रयागराज हाई कोर्ट के नंबर 21 में बारिश का पानी भर गया. कोर्ट में मौजूद लोगों का कहना था कि छत पर आकाशीय बिजली गिरने की वजह से कोर्ट में पानी आ गया.

प्रयागराज: बहादुरगंज इलाके की बड़ा दारा की शाही मस्जिद के गुंबद पर बिजली गिरी

हमीरपुर: 500 घर ढहे, मुआवजे को लेकर प्रदर्शन

जिले में कई दिन हो रही मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. कई गांव पानी से घिर गए हैं, उनका संपर्क बाकी जगह से टूट गया है. फसल बर्बाद हो गई है. वहीं करीब 500 सौ कच्चे घर ढह गए हैं.

नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजे की मांग को लेकर शुक्रवार को सैकड़ों ग्रामीणों ने डीएम कार्यालय के बाहर धरना दिया. वहीं प्रशासन की तरह से मदद का कोई आश्वासन न मिलने से नाराज कुंडौरा गांव के लोगों ने कानपुर सागर  नेशनल हाईवे-34 में जाम कर नारेबाजी भी की, जिससे कई घंटे यातायात भी प्रभावित रहा.

अलीगढ़: मकान गिरने से नौ लोग दबे, सभी सुरक्षित

अलीगढ़ ममें पिछले 5 दिन से बारिश हो रही है. बारिश के चलते गुरुवार देर रात 3:00 बजे एक मकान गिर गया, जिससे मकान में सो रहे 9 लोग मलबे में दब गए. हालांकि स्थानीय लोगों की मदद से सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. उन्हें मामूली चोटें आई हैं.

सीएम योगी ने बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वे किया

सीएम योगी बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया 

पश्चिमी यूपी के आठ जिलों में बारिश का असर ज्यादा दिख रहा है. वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ बाढ़ प्रभावित जिलों गोरखपुर और संत कबीर नगर का जायजा लिया. इसके अलावा बस्ती, अयोध्या, गोंडा और बाराबंकी में बाढ़ से प्रभावित स्थिति का हवाई सर्वेक्षण किया.

दिल्ली-एनसीआर में इसलिए हो रही बारिश

दिल्ली-एनसीआर में अचानक  मौसम में बदलाव और बारिश दो सिस्टम के एक साथ आने की वजह से हुआ है. पहला सिस्टम एक लो प्रेशर सिस्टम है, जिसकी वजह से एक साइक्लोनिक सरकुलेशन निचले वातावरण में बना हुआ है. यह सिस्टम उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश और दक्षिण पश्चिम उत्तर प्रदेश में सक्रिय है. वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दक्षिणी हरियाणा और दिल्ली एनसीआर के इलाकों की तरफ फिलहाल एक्टिव होता हुआ नजर आ रहा है.

वहीं दूसरा सिस्टम एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस यानी पश्चिमी विक्षोभ का है, जो वातावरण के ऊपरी इलाके में सक्रिय है. इसके साथ ही पछुआ हवाएं भी चल रही हैं. इन हवाओं को मिड ट्रोपास्फेरिक वेस्टरली भी कहा जाता है.

अगर दूसरा सिस्टम मौजूद नहीं होता तो पहला सिस्टम पश्चिम दिशा की ओर निकल जाता लेकिन दूसरे सिस्टम ने पहले सिस्टम को इसी इलाके में रोक रखा है जो अगले 2 दिनों तक बारिश करता रहेगा. दोनों मजबूत सिस्टम उत्तर प्रदेश, साउथ हरियाणा और दिल्ली एनसीआर में इस वीकेंड यानी सप्ताहांत तक बने रह सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें