scorecardresearch
 

पश्चिम बंगाल: लोग समझ रहे थे फ‍िल्म की शूटिंग, टोटो पर न‍िकली थीं महिला अफसर

दुर्गम व कच्ची सड़कों पर जब सरकारी गाड़‍ियों को चलने में द‍िक्कत होने लगी तो बाढ़ पीड़‍ितों का हालचाल जानने के ल‍िए डीएम की र‍िप्रेंजेट‍िव और एसडीओ टोटो में बैठकर पहुंचीं.

टोटो में बैैठीं आईएएस अफसर. टोटो में बैैठीं आईएएस अफसर.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टोटो में बैठकर बाढ़ पीड़‍ितों का हाल जानने पहुंचीं आईएसएस अफसर
  • लोगों ने समझा फ‍िल्म की शूट‍िंग, हकीकत में था लेडी अफसरों का दौरा

पश्चि‍म बंगाल में हुगली की डीएम र‍िप्रेंजेट‍िव आईएएस अफसर और एसडीओ टोटो (बैटरी चालित रिक्शा) पर सवार होकर बाढ़ पीड़ितों का हालचाल जानने दुर्गम इलाकों में पहुंचीं तो लोग हैरान रह गए.

हुगली के खानाकुल के ब्लॉक 2 के धनगड़ी ग्राम के दुर्गम इलाकों में एसी कारों को दुर्गम व कच्ची सड़कों पर चलने में काफी दिक्कतें हो रही थीं, तभी हुगली की डीएम र‍िप्रेंजेट‍िव और एडीएम (लैंड र‍िफॉर्म) बंदना पोख‍र‍ियाल, आरामबाग की एसडीओ हसीन जेहरा रिजवी और आईपीएस अफसर ऐश्वर्या सागर फटाफट अपनी कारों से उतर कर टोटो में सवार हो गईं. 

वह अपने साथ केंद्र सरकार की 3 सदस्यीय टीम भी ले गईं जो हुगली के खानाकुल में बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों का सर्वे करने आई थी. 

बाढ़ पीड़‍ितों से म‍िलतीं लेडी अफसर.
बाढ़ पीड़‍ितों से म‍िलतीं अफसर.

महिला अधिकारियों के टोटो पर सवार होने के दृश्य को देखकर स्थानीय लोग आश्चर्यचकित रह गए. टोटो में इन्हें देखकर पहले तो लोग समझे कि फिल्म की शूटिंग जैसा कोई मामला है, लेकिन बाद में पुलिस के लाव-लश्कर को देखकर वे समझ गए कि टोटो में सवार महिलाएं पुल‍िस और  प्रशासन की आला अधिकारी हैं. 

इन्हें देखने के लिए खानाकुल के इस बाढ़ प्रभावित इलाके में आम लोगों की काफी भीड़ उमड़ पड़ी. केंद्र सरकार की टीम के साथ इन्होंने बाढ़ पीड़ितों के साथ घुलमिल कर ग्राउंड जीरो से उनकी समस्याएं जानीं. उनकी समस्याओं के निदान के उपाय स्थानीय अधिकारियों को बताए. 

इनपुट- हुगली से भोला नाथ साहा की र‍िपोर्ट 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें