scorecardresearch
 

गाजियाबाद में बच्चे पर अटैक, लखनऊ में मालकिन को नोच खाया… पिटबुल के हमले की कहानियां

गाजियाबाद के एक पार्क में पिटबुल ने 11 साल के बच्चे पर हमला कर दिया. इस हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया और उसके चेहरे पर 150 टांके लगाने पड़े. इससे पहले गुरुग्राम में भी पिटबुल ने एक महिला पर हमला कर दिया था. लखनऊ में तो पिटबुल ने अपनी मालकिन को मार डाला था.

X
लखनऊ में ब्राउनी नाम के पिटबुल ने अपनी मालकिन को मार डाला था
लखनऊ में ब्राउनी नाम के पिटबुल ने अपनी मालकिन को मार डाला था

बीते कुछ दिनों में पिटबुल के हमले की घटनाएं बढ़ी हैं. हाल ही में गाजियाबाद के एक पार्क में पिटबुल ने 11 साल के बच्चे पर हमला कर दिया. इस हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया और उसके चेहरे पर 150 टांके लगाने पड़े. इससे पहले गुरुग्राम में भी एक पिटबुल ने हमला किया था. लखनऊ में तो पिटबुल ने अपनी मालकिन को नोच खाया था.

ताजा मामला गाजियाबाद के मधुबन बापूधाम क्षेत्र का है. इस इलाके के संजय नगर (सेक्टर 23) में रहने वाले 11 साल के बच्चे पर अब एक कुत्ते ने हमला कर दिया. पुष्प त्यागी नाम के इस बच्चे पर पिटबुल ब्रीड के डॉग ने जानलेवा हमला किया है. कुत्ते ने बच्चे को बुरी तरह जख्मी कर दिया. डॉक्टरों को बच्चे के चेहरे पर करीब 150 से ज्यादा टांके लगाने पड़े. 

पिटबुल के हमले की यह घटना उस समय हुई, जब बच्चा घर के बाहर पार्क में खेल रहा था. वहां पार्क में पिटबुल ब्रीड के कुत्ते को घुमा रही लड़की के हाथ से अचानक कुत्ता छूट गया. फिर पिटबुल ने बच्चे के चेहरे और कान पर हमला कर दिया. वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह बच्चे को कुत्ते के चंगुल से छुड़ाया और अस्पताल पहुंचाया था.

इससे पहले गुरुग्राम के सिविल लाइन इलाके में एक महिला पर पिटबुल ने हमला कर दिया था. वह अपनी ड्यूटी पर जा रही थी. इसी दौरान एक पिटबुल डॉग रास्ते में घूम रहा था. महिला जैसे ही उसके आसपास से गुजरी तो पिटबुल ने उस पर अटैक कर दिया. महिला पिटबुल डॉग के हमले से लहूलुहान हो गई. चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग महिला को बचाने दौड़े.

पिटबुल ने महिला से सिर में गंभीर घाव कर दिए. आनन-फानन में महिला को पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां से गंभीर हालत में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया था. महिला की हालत काफी नाजुक थी. महिला का कई दिनों तक इलाज चला था. पुलिस ने पिटबुल डॉग के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

पिटबुल पर हमले की सबसे दर्दनाक कहानी लखनऊ में सामने आई थी. लखनऊ के बंगाली टोला में शिक्षिका सुशीला त्रिपाठी पर उनके ही पिटबुल 'ब्राउनी' ने हमला कर दिया था. हर रोज की तरह रिटायर्ड शिक्षिका सुशीला त्रिपाठी अपने पिटबुल 'ब्राउनी' और लेब्राडोर को लेकर टहलाने गई थीं. इसी बीच पिटबुल ने सुशीला त्रिपाठी पर हमला कर दिया.

इसके बाद पिटबुल ने सुशीला त्रिपाठी पर हमला कर दिया था. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, पिटबुल ने सुशीला को नोच खाया था. इस हादसे में सुशीला की मौत हो गई थी. इसके बाद लखनऊ नगर निगम ने पिटबुल को 14 दिन तक स्पेशल केज में रखा था. इस दौरान उसके बिहेवियर को देखा गया था. बाद में उसे किसी और को सौंप दिया गया.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें