scorecardresearch
 

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट केस पर आज नहीं होगी सुनवाई, CJI बोले- अभी मैन पावर नहीं है

सीजेआई एनवी रमना ने कहा कि ये मुश्किल समय है, न्यायाधीश उपलब्ध नहीं हैं, हमारे पास कोई मैन पावर नहीं है. मुझे भी संक्रमण था, मैं कागजात नहीं पढ़ पा रहा हूं, यह एक असाधारण स्थिति है.

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो-PTI) सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के खिलाफ याचिका
  • सुप्रीम कोर्ट में आज नहीं होगी सुनवाई

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के खिलाफ दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है. हालांकि, अभी सुनवाई के लिए तारीख तय नहीं की गई है. याचिका दाखिल करने वाले वकील को रजिस्ट्री की ओर से अभी कोई तारीख नहीं बताई गई. इससे पहले सीजेआई एनवी रमना ने कहा कि अभी हमारे पास मैन पावर नहीं है.

सीजेआई एनवी रमना ने कहा कि ये मुश्किल समय हैं, न्यायाधीश उपलब्ध नहीं हैं, हमारे पास कोई मैन पावर नहीं है, मुझे भी संक्रमण था. मैं कागजात नहीं पढ़ पा रहा हूं, यह एक असाधारण स्थिति है, मैं किसी भी न्यायाधीश को केस सुनने के लिए मजबूर नहीं कर सकता, अभी बहुत कुछ मायने रखता है.

किसने दाखिल की है याचिका
दिल्ली के दो निवासियों ने इस मामले में तत्काल सुनवाई की मांग करते हुए दलील दी कि चूंकि इस मामले में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल है, इसलिए कोई भी देरी बड़े सार्वजनिक हित के लिए हानिकारक हो सकती है. इस मामले को मंगलवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र को बिना जारी किए मामले की सुनवाई 17 मई तक के लिए स्थगित कर दी.

इसके बाद याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया. दरअसल, कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन के बीच प्रोजेक्ट के तहत चल रहे निर्माण कार्य को 'आवश्यक सेवाओं' में शामिल किया गया है. इसी के खिलाफ कोर्ट में याचिका दाखिल कर केंद्र सरकार को निर्माण कार्य रोकने का निर्देश देने की मांग की गई थी.

दिल्ली हाई कोर्ट में मंगलवार को याचिकाकर्ता ने कहा था कि कोरोना के बीच निर्माण कार्य में लगे मजदूरों की जिंदगी के खतरे के साथ-साथ दिल्ली के नागरिकों की जान के लिए भी यह खतरा है और यह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) के आदेशों का सरासर उल्लंघन है. 

दिल्ली हाई कोर्ट में दाखिल याचिका में कहा गया था कि जब दिल्ली कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रही है और राज्य सरकार के द्वारा संक्रमण को रोकने की कोशिश की जा रही है, उस वक्त इस तरह के कार्यों से स्थिति को नियंत्रण करने के सारे प्रयास विफल हो जाएंगे, ऐसे में प्रोजेक्ट पर तुरंत रोक लगनी चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें