scorecardresearch
 

कैश कांड में फंसे झारखंड के 3 विधायकों को कलकत्ता हाईकोर्ट से राहत, मिली अंतरिम जमानत

पश्चिम बंगाल में भारी भरकम नकदी के साथ पकड़े गए (कैश कांड) झारखंड के 3 विधायकों को कलकत्ता उच्च न्यायालय ने अंतरिम जमानत दे दी है. ये तीनों विधायक कांग्रेस के है. इनके पास मिली नकदी को लेकर कांग्रेस का दावा है कि बीजेपी ने विधायकों की खरीद-फरोख्त (हॉर्स-ट्रेडिंग) झारखंड सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की थी.

X
कलकत्ता उच्च न्यायालय (फाइल फोटो)
कलकत्ता उच्च न्यायालय (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस ने बताया बीजेपी की साजिश
  • महाराष्ट्र मॉडल दोहरानी चाहती थी बीजेपी

कलकत्ता हाईकोर्ट ने झारखंड के उन 3 कांग्रेसी विधायकों को अंतरिम जमानत दे दी है, जिन्हें पश्चिम बंगाल में भारी नकदी के साथ (कैश कांड में) पकड़ा गया था. उन्हें ये जमानत सिर्फ 3 महीने के लिए मिली है.

मामले की सुनवाई न्यायाधीश जयमाल्या बागची की खंडपीठ ने की. पीठ ने ये बात मानने से इनकार कर दिया कि विधायकों को अंतरिम जमानत देने ने से जांच प्रभावित होगी. साथ ही कहा कि अभी भी ये साबित करना बाकी है कि ये विधायकों की खरीद-फरोख्त (हॉर्स-ट्रेडिंग) का मामला है.

पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में झारखंड के 3 विधायकों के पास से पुलिस ने 30 जुलाई की रात को भारी संख्या में नगदी बरामद की थी. कैश इतना ज्यादा था कि नोटों की गिनती के लिए काउंटिंग मशीन मंगवानी पड़ी थी. हावड़ा सिटी पुलिस के डीसीपी साउथ प्रतिक्षा झाखरिया के मुताबिक राजेश कच्छप, नमन विक्सेल कोंगारी और इरफान अंसारी के पास से यह नगदी मिली थी.

इस घटना को लेकर झारखंड में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा था कि इस साजिश के पीछे बीजेपी का हाथ है. वे लंबे समय से गैर बीजेपी शासित राज्यों में सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं. ये बात सार्वजनिक डोमेन में है कि उन्होंने कैसे मराष्ट्र सरकार को अस्थिर किया.

बाद में कांग्रेस के मीडिया इंचार्ज पवन खेड़ा और झारखंड कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी कि इन विधायकों को निलंबित कर दिया था.

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय संचार प्रभारी जयराम रमेश ने कहा था- बीजेपी का "ऑपरेशन लोटस" बेनकाब हो गया. जयराम रमेश ने ट्वीट किया, "झारखंड में भाजपा का 'ऑपरेशन लोटस' आज की रात हावड़ा में बेनकाब हो गया. दिल्ली में 'हम दो' का गेम प्लान झारखंड में वही करने का है जो उन्होंने महाराष्ट्र में एकनाथ-देवेंद्र (E-D) की जोड़ी से करवाया."

(रिपोर्ट: रितिक)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें