scorecardresearch
 

'कत्लेआम शुरू करने वाले राष्ट्रभक्ति का पाठ पढ़ा रहे', ओवैसी और नीतीश पर बरसे गिरिराज सिंह

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा था कि भारत की आजादी में मुसलमानों का भी योगदान है. अपने दूसरे ट्वीट में ओवैसी ने कहा था कि जिन्हें देश से प्यार नहीं है, वही पाकिस्तान जाने की बात करते हैं. इसी के जवाब में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पलटवार किया और कहा कि जिस समय हमारे राष्ट्र में देशभक्त आजादी की लड़ाई लड़ रहे थे.

X
बीजेपी नेता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने असदुद्दीन ओवैसी और नीतीश कुमार पर हमला बोला है.
बीजेपी नेता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने असदुद्दीन ओवैसी और नीतीश कुमार पर हमला बोला है.

बिहार बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर पलटवार किया है. गिरिराज ने कहा है कि भले ही ओवैसी का जन्म आजादी के बाद हुआ हो. लेकिन ओवैसी में जिन्ना का ही डीएनए पाया जाता है और वह हर वक्त देश तोड़ने की ही बात करते हैं. गिरिराज ने सीएम नीतीश कुमार पर भी हमला बोला है.

बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा था कि भारत की आजादी में मुसलमानों का भी योगदान है. अपने दूसरे ट्वीट में ओवैसी ने कहा था कि जिन्हें देश से प्यार नहीं है, वही पाकिस्तान जाने की बात करते हैं. इसी के जवाब में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पलटवार किया और कहा कि जिस समय हमारे राष्ट्र में देशभक्त आजादी की लड़ाई लड़ रहे थे और अपनी शहादत दे रहे थे. उसी वक्त जिन्ना के द्वारा मुस्लिम लीग की स्थापना की गई थी और पिछले दरवाजे से देश विभाजन की शुरुआत कर दी गई थी. 

ओवैसी के भाई ने कहा था....

गिरिराज ने कहा कि आज उन्हीं के रास्ते पर ओवैसी चल रहे हैं और वे हर वक्त देश तोड़ने की बात करते रहते हैं. अगर ऐसा नहीं होता तो इस हिंदू बहुसंख्यक राष्ट्र में ओवैसी के भाई ने चेतावनी देते हुए कहा था कि 15 मिनट के लिए पुलिस हटा ली जाए तो पूरे देश में कत्लेआम शुरू कर दूंगा और हिंदू का सफाया कर दूंगा. आज वही ओवैसी राष्ट्रभक्ति का पाठ पढ़ा रहे हैं.

नीतीश के मुंह से ऐसी बात शोभा नहीं देती

गिरिराज ने बिहार में जहरीली शराब से मौतें होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला. गिरिराज ने कहा कि वे मुख्यमंत्री का सम्मान करते हैं. नीतीश कुमार एक संवेदनशील व्यक्ति हैं लेकिन उनके मुंह से ऐसी बात शोभा नहीं देती है. नीतीश कुमार देखें कि आखिर यह शराब अवैध रूप से कहां से और कैसे आ रही है. 

शराब पर कानून बनाया है तो जमीन पर लागू करें

उन्होंने कहा कि ये सरकारी विफलता है. बीजेपी के कार्यकर्ता जब यही कहते थे तो नीतीश कुमार असहज हो जाते थे. आज के उप मुख्यमंत्री और उस समय के विपक्ष नेता तेजस्वी यादव भी यही कहते थे. इसलिए नीतीश कुमार असहज नहीं हों. यह नहीं कहें कि पियोगे तो मरोगे. पीने वाले तो मर ही रहे हैं. नीतीश की जिम्मेदारी है कि अगर कानून बनाया है तो उसे जमीन पर लागू करें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें