scorecardresearch
 

आज का दिनः राहुल की 'रेवड़ियों' से गुजरात फतह कर पाएगी कांग्रेस?

AAP का दिल्ली मॉडल और राहुल के वादे क्या बिगाड़ देंगे गुजरात में BJP का खेल? लिज़ ट्रस के आने से ब्रिटेन में क्या बदलेगा? बेंगलुरू की बाढ़ के लिए कौन है ज़िम्मेदार? क्या सबक लेकर आज एशिया कप में श्रीलंका के सामने होगी टीम इंडिया?

X
राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

आजतक रेडियो पर हम रोज लाते हैं देश का पहला मॉर्निंग न्यूज़ पॉडकास्ट ‘आज का दिन’ जहां आप हर सुबह अपने काम की शुरुआत करते हुए सुन सकते हैं आपके काम की खबरें और उन पर क्विक एनालिसिस. साथ ही, सुबह के अखबारों की सुर्खियां और आज की तारीख में जो घटा, उसका हिसाब किताब. जानिए, आज के एपिसोड में हमारे पॉडकास्टर अमन गुप्ता किन ख़बरों पर बात कर रहे हैं?

राहुल गांधी के गुजरात में किए वादों का जवाब कैसे देगी BJP?

महंगाई के ख़िलाफ़ रामलीला मैदान से हल्ला बोलकर और फिर कल सोमवार को गुजरात में चुनावी प्रचार के साथ राहुल गांधी ने एक राजनीतिक लकीर खींचने की कोशिश की. राहुल ने साबरमती रिवरफ्रंट से कांग्रेस के करीब 52 हजार बूथ लेवल के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों के 3 लाख रुपए तक के कर्ज माफ करने का वादा किया.  साथ ही, 300 यूनिट फ्री बिजली और 500 रुपए में गैस सिलेंडर, 10 लाख रोज़गार और कोविड के दौरान जान गंवाने वालों को 4-4 लाख रुपये मुआवजे के तौर पर देने की बात भी की. राज्य में आम आदमी पार्टी पहले ही दिल्ली का शिक्षा और स्वास्थ्य मॉडल पेश कर मतदाताओं को लुभाने में जुटी हुई है. सवाल ऐसे में है कि भाजपा के संगठन और काम, आप के दिल्ली मॉडल के सामने राहुल गांधी के जो ये वायदे हैं, वो कहां टिकते हैं, इनके सहारे कांग्रेस, भाजपा को एक मजबूत टक्कर देती हुई क्या दिख रही है गुजरात में?  

बेंगलुरू में क्यों आई बाढ़

असम, मध्यप्रदेश से लेकर उत्तरप्रदेश के कई इलाकों में पिछले दिनों हमने बाढ़ और वाटर लॉगिंग की सूरत देखी. लेकिन समस्या टीयर 2, टीयर 3 सिटीज तक ही बस नहीं. मेट्रोपोलिटन सिटीज के भी हाल कुछ ख़ास अच्छी नहीं, अच्छे क्या…और बदतर है.  कर्नाटक  की राजधानी बेंगलुरु. देश की सिलिकॉन सिटी, जिसे हाईटेक शहर के पैमानों पर अव्वल बताया जाता है, जिसके तरह शहर बनाने का ख़्वाब राजनेता बेचते रहें, वोट बटोर कर सत्ता की सीढ़ी चढ़ते रहे. वहां की सड़कें पानी से लबालब हैं. रविवार को शहरी बैंगलोर में 28 मिलीमीटर बारिश हुई जो औसत से तीन, साढ़े तीन गुना ज्यादा थी. और इसके बाद जो यहां की सड़कों का हाल हुआ उसकी तस्वीरें आप तक पहुंच ही गई होंगी. ये वही शहर है जहां 2018 में एक बार भयंकर पानी का संकट हो गया था. नहाने तक को लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा था. ख़ैर ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझने वाला ये शहर जलजमाव के बाद कामकाजी लोगों को वर्क फ्रॉम होम दे रहा है. लेकिन ऐसा क्यों हुआ कि कुछ घण्टों की बारिश के बाद इस शहर में बाढ़ जैसी स्थिति बन गई?

ब्रिटेन में स्थिरता ला पाएंगी लिज़ ट्रस?

लिज़ ट्रस ब्रिटेन को फिलहाल रूल कर रही कंजरवेटिव पार्टी की नेता चुन ली गयीं. ब्रिटिश हिस्ट्री में तीसरी महिला प्रधानमंत्री होने जा रही लिज़ आज शपथ लेंगी. रवायत के मुताबिक पहले बॉरिस जॉनसन PM हाउस 10 डाउनिंग स्ट्रीट से बतौर प्रधानमंत्री आखिरी भाषण देकर महारानी को इस्तीफा सौपेंगे और उसके बाद देश की कमान लिज़ के हाथों में होगी. शाम को वो बतौर पीएम भाषण देंगी, अपना कैबिनेट चुनेंगी,  जिसकी पहली बैठक कल होगी. ट्रस को पीएम चुन लिए जाने के बाद दुनिया-जहान से रिएक्शन आए हैं. यूरोपियन यूनियन, जर्मनी, भारत, इटली जैसे देशों ने साथ मिलकर काम करने की बात कही है. वहीं रूस का कहना है कि सम्बन्धों में बेहतरी की… कोई उम्मीद नज़र नहीं आती. आधिकारिक तौर पर चीन ने अब तक तो कुछ नहीं कहा है लेकिन वहां के कमेंटेटर्स ने निराशा से भरे ही रिएक्शन दिए हैं. इस तरह के मिक्स्ड रिस्पांस के बीच लिज़ से हम क्या एक्सपेक्ट करें? ब्रिटेन में जो एक स्थायी राजनीतिक अस्थिरता का माहौल बन गया है, पिछले कुछ साल में, क्या उनके आने से स्टेबिलिटी बहाल हो पाएगी? जो मौजूदा ग्लोबल सिचुएशन है और उसमें रूस-यूक्रेन का मसला, वहां कोई सकारात्मक पहल की हम उम्मीद करें?

श्रीलंका के सामने किन सबक के साथ उतरेगी टीम इंडिया?


एशिया कप का सुपर-4 राउंड चल रहा है और आज शाम मुक़ाबला है इंडिया और श्रीलंका के बीच. इंडियन टीम अपना पिछला मैच हार चुकी है. पाकिस्तान ने 5 विकेट से हराया था भारत को. जबकि श्रीलंका ने अफ़ग़ानिस्तान को हराया था. ऐसे में भारत के लिए ये मैच काफी अहम होने वाला है. अगर इंडियन टीम आज जीत जाती है तो फाइनल में पहुँचने की उम्मीदें बरक़रार रहेंगी, लेकिन हारने की सूरत में टीम एशिया कप से बाहर हो जाएगी. तो पिछले मैच से क्या सबक लेगी इंडियन टीम, क्या टीम में कोई बदलाव देखने को मिल सकता है?

6 सिंतबर 2022 का 'आज का दिन' सुनने के लिए यहां क्लिक करें...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें