scorecardresearch
 
न्यूज़

Chhath Puja 2022: सज गए बाजार, खरना के दिन छठ की खरीददारी करते दिखे लोग

Chhath Festival
  • 1/10

छठ पूजा का पावन पर्व 28 अक्टूबर 2022 से शुरू हो चुका है. धर्म शास्त्रों के अनुसार, छठ पूजा पर सभी महिलाएं सूर्यदेव को जल देकर छठी मैया की पूजा करती हैं. इस पूजा में 36 घंटे का निर्जला व्रत रखा जाता है. संतान के सुख-सौभाग्य, समृद्धि और सुखी जीवन की कामना के लिए छठी मैयी की पूजा की जाती है.

Chhath Festival
  • 2/10

छठ के पहले दिन की शुरुआत नहाय खाय के साथ होती है. इस दिन शाकाहारी भोजन में कद्दू भात बनाकर तैयार किया जाता है. इसके बाद दूसरे दिन यानी कि खरना पर अर्घ्य और पारण किया जाता है. इस दिन चावल और गुड़ की खीर का प्रसाद तैयार किया जाता है.

Chhath Festival Traditons
  • 3/10

उत्तर भारत के कई शहरों में छठ का महापर्व काफी धूमधाम से मनाया जा रहा है. रविवार यानी 30 अक्टूबर 2022 को भगवान भास्कर को प्रसन्न करने के लिए छठ पूजा करने वाले व्रती लोग अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देंगे. 

Chhath Puja Shopping
  • 4/10

इससे पहले डाला छठ पूजा को लेकर बाजारों में रौनक दिखाई दे रही है. जहां पर सीजनल फल और पूजा में प्रसाद के तौर पर प्रयोग में लाई जाने वाली सब्जियों के साथ-साथ अन्य पूजा सामग्री की बिक्री हो रही है.
 

Chhath Festival 2022
  • 5/10

यह तस्वीरें उत्तर प्रदेश-बिहार सीमा पर स्थित चंदौली जनपद के दीनदयाल उपाध्याय नगर की हैं. आप इन तस्वीरों में देख सकते हैं कि छठ पूजा को लेकर यहां कतार से दुकानें सजी हुई हैं और लोग पूजा सामग्रियों की खरीदारी कर रहे हैं.

Chhath 2022
  • 6/10

पिछले 2 साल से छठ पूजा पर कोरोना का साया था. हालांकि, त्योहार को लेकर लोगों के उत्साह में कमी नहीं थी, लेकिन इस बार छठ पूजा को लेकर खासा उत्साह दिखाई दे रहा है. बाजारों में छठ पूजा की खरीददारी के लिए भक्तों की भीड़ लगी दिख रही है. 

Chhath Shopping
  • 7/10

इस बार लोग थोड़ा महंगाई से जरूर परेशान हैं. चंदौली के दीनदयाल नगर की रहने वाली अर्पणा पिछले 4 साल से छठ पूजा कर रही हैं. उन्होंने बताया कि मुझे त्योहार को लेकर बहुत ज्यादा उत्साह है. लेकिन मार्केट प्राइस थोड़ी ज्यादा है इसलिए वहां जाकर थोड़ा-सा उत्साह कम हो जा रहा है.

Chhath puja
  • 8/10

अर्पणा ने बताया कि इस सीजन में जो भी फल आते हैं, वह प्रसाद के रूप में चढ़ाए जाते हैं. उन्होंने आगे बताया कि कोरोना के दौरान भी उत्साह में कोई कमी नहीं थी और इस बार भी जमकर खरीदारी कर रहे हैं.

Fruits shops during Chhath Festival
  • 9/10

एक अन्य महिला सुजाता ने बताया कि इस साल भी उत्साह बहुत ज्यादा है. लेकिन महंगाई इस बार हर किसी को परेशान कर रही है. उन्होंने कहा कि अब ऐसा लग रहा है कि थोड़ा-सा बचा के चलें. 

Chhath Puja Market
  • 10/10

उन्होंने आगे कहा कि कोरोना के बाद लोग हर त्योहार उत्साह से मना रहे हैं. चाहे वह दीपावली हो या दुर्गा पूजा. चाहे छठ हो. बस यह सोच रहे हैं कि 2 साल में जो बचत हुई थी, वह इस बार खर्च ना हो जाए.