scorecardresearch
 

महाराष्ट्रः गोंदिया में नक्सलियों की साजिश नाकाम, पुलिस टीम को बनाने वाले थे निशाना

गोंदिया के नक्सल प्रभावित चीचगढ़ पुलिस थाना इलाके के कोसंबी के जंगलों से पुलिस ने आईईडी बरामद किया है. ये आईईडी पुलिस दल को निशाना बनाने के लिए लगाए गए थे.

कोसंबी के जंगलों से IED बरामद (फाइल फोटो-PTI) कोसंबी के जंगलों से IED बरामद (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोसंबी के जंगलों से विस्फोटक बरामद
  • नक्सली पुलिस टीम को बनाने वाले थे निशाना
  • खुफिया जानकारी पर पुलिस ने चलाया अभियान

महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के कोसंबी जंगल में पुलिस पार्टी पर घातक हमले के लिए नक्सलियों द्वारा लगाए गए IED विस्फोटक बरामद किए गए हैं. 

गोंदिया के नक्सल प्रभावित चीचगढ़ पुलिस थाना इलाके के कोसंबी के जंगलों से पुलिस ने आईईडी बरामद किया है. ये आईईडी पुलिस दल को निशाना बनाने के लिए लगाए गए थे.  

जानकारी के अनुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी को विश्वसनीय सूत्र से जानकारी मिली थी कि कोसंबी के जंगल में नक्सलियों ने घात लगाकर हमला करने के इरादे से विस्फोटक छिपाए हैं. खबर मिलते ही 27 सितंबर को जंगल में तलाशी अभियान चलाया गया. 

इस ऑपरेशन में पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी, सी-60 देवरी कमांडो स्क्वाड, बीडीडीएस स्क्वाड, नक्सल ऑपरेशन सेल देवरी और चीचगढ़ पुलिस स्टेशन के नेतृत्व में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी शामिल थे.

खोज के दौरान बीडीडीएस दस्ते को कोसंबी-धनोरी के बीच जंगलों में कुछ संदिग्ध वस्तु मिली. पता लगाने पर टीम मौके पर पहुंची और आईईडी को सावधानी से सुरक्षित बाहर निकालने में सफल रही.

विस्फोटक में नीले प्लास्टिक के ड्रम, पीले और सफेद विस्फोटक पाउडर, सुपर पावर जिलेटिन, लाइव इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, लोहे के टुकड़े और किले, कांच के टुकड़े, काले, पीले इलेक्ट्रिक बैटरी, प्रेशर कुकर, नक्सल शीट, बिजली के तार शामिल हैं. कॉल टेप और इलेक्ट्रिक पिन बरामद भी किया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें