scorecardresearch
 

महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे ने गृहमंत्री अमित शाह से की मुलाकात, देवेंद्र फडणवीस भी रहे मौजूद

महाराष्ट्र में मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर कैबिनेट विस्तार अभी तक नहीं हुआ है. माना जा रहा है कि एकनाथ शिंदे ने गृहमंत्री अमित शाह से मिलकर कैबिनेट के विभागों को लेकर चर्चा की होगी.

X
एकनाथ शिंदे और फडणवीस ने केंद्रीय गृह मंत्री से की मुलाकात
एकनाथ शिंदे और फडणवीस ने केंद्रीय गृह मंत्री से की मुलाकात
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिंदे ने 30 जून को ली थी सीएम पद की शपथ
  • शिंदे सरकार में फडणवीस भी बने हैं डिप्टी CM

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार गिराकर बीजेपी के समर्थन से एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ तो ले ली है, लेकिन अभी तक उनके मंत्रिमंडल का गठन नहीं हो पाया है. शिंदे की सरकार में देवेंद्र फडणवीस भी डिप्टी सीएम बने हैं. शुक्रवार को एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की है. 

अमित शाह ने ट्वीट कर महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को शुभकामनाएं दी हैं. उन्होंने लिखा, "महाराष्ट्र के नवनियुक्त मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे जी और उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस जी से भेंट की और उन्हें शुभकामनाएं दीं. मुझे विश्वास है कि श्री नरेंद्र मोदी जी के मार्गदर्शन में आप दोनों पूरी निष्ठा के साथ जनता की सेवा कर महाराष्ट्र को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे."

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे देर रात गृह मंत्री शाह के आवास से बाहर निकले.सूबे में मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर कैबिनेट विस्तार अभी तक नहीं हो पाया है. माना जा रहा है कि एकनाथ शिंदे ने गृहमंत्री अमित शाह से मिलकर कैबिनेट के विभागों को लेकर चर्चा की होगी. दरअसल पोर्टफोलियो को लेकर बीते दिनों एक फॉर्मूला भी सामने आया था, जिसके मुताबिक, शिंदे गुट की ओर से बीजेपी के सामने कई शर्तें भी रखी गईं थीं. इसके मुताबिक, शिंदे गुट अपने लिए 8 कैबिनेट पद और 5 MoS चाहता है. वहीं बीजेपी अपने कोटे के लिए 29 मंत्रियों का लक्ष्य रखना चाहती है. हालांकि इस पर अभी तक किसी भी दल ने मुहर नहीं लगाई है. 

शिंदे गुट बीजेपी पर बना रहा है दवाब

इसके अलावा ये बात भी सामने आ रही है कि शिंदे गुट उद्धव सरकार में मिले विभागों को बनाए रखने के लिए भी बीजेपी पर दबाव डालेगा क्योंकि सूत्रों का कहना है कि उद्धव सरकार ने बीते एक महीने में बागी मंत्रियों द्वारा लिए गए सभी फैसलों को रोक दिया था. इसके अलावा शिंदे गुट चाहता है कि निर्दलीय विधायकों को भी बीजेपी के कोटे से कैबिनेट में शामिल किया जाए. अब देखना होगा कि बीजेपी शिंदे खेमे की इन मांगों को कितना मानती है.  

शिंदे गुट के संभावित मंत्री 

शिंदे गुट के संभावित मंत्री:  दादा भुसे, गुलाबराव पाटिल, संदीपन भुमरे, उदय सामंत, शंभूराज देसाई, अब्दुल सत्तार और राजेंद्र पाटिल येद्रावकर. वहीं प्रहार जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष बच्चू कडू के लिए शिंदे खेमा बीजेपी कोटे से बर्थ चाहता है. 

नए नाम भी आए सामने  

वहीं सूत्रों के हवाले से कैबिनेट में शामिल होने वाले नए विधायकों के नाम भी सामने आए हैं. इनमें दीपक केसरकरक, प्रकाश अबितकर, संजय रायमूलकर, संजय शीर्षस्थ, प्रताप सरनाइक. इन सबके अलावा शिंदे खेमा MHADA और CIDCO जैसे महत्वपूर्ण निगमों के लिए भी बीजेपी पर दवाब डाल रहा है. बता दें कि एकनाथ शिंदे ने 30 जून को बीजेपी के साथ मिलकर सीएम पद की शपथ ली थी. उनके साथ देवेंद्र फडणवीस ने भी डिप्टी सीएम पद की शपथ ली थी. हालांकि उस दिन किसी और मंत्री ने शपथ नहीं ली थी. अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि किस दल से कितने मंत्री होंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें