scorecardresearch
 

गढ़चिरौली में नक्सलियों से मुठभेड़, सब-इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल शहीद

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में सुरक्षाबलों और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई है. इसमें एक सब-इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल शहीद हो गए. इसके अलावा तीन अन्य घायल बताए जा रहे हैं. मुठभेड़ पोयारकोटी-कोपरशी के जंगलों में हुई.

शहीद सब-इंस्पेक्टर शहीद सब-इंस्पेक्टर

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में सुरक्षाबलों और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई है. इसमें एक सब-इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल शहीद हो गए. इसके अलावा तीन अन्य घायल बताए जा रहे हैं. मुठभेड़ पोयारकोटी-कोपरशी के जंगलों में हुई. गढ़चिरौली पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया है.

इसी महीने की शुरुआत में गढ़चिरौली में नक्सलियों से मुठभेड़ की घटना सामने आई थी. इस मुठभेड़ में पुलिस ने एक इनामी नक्सली को मार गिराया था. मुठभेड़ की यह घटना प्रदेश के गढ़चिरौली जिले के पेंड्री के सिभट्टी के जंगलों में हुई थी.

इस मुठभेड़ में पुलिस की सी60 कमांडो टीम पर नक्सलियों ने हमला कर दिया था. सी 60 कमांडो टीम ने भी नक्सलियों पर फायरिंग शुरू कर दी. लगभग एक घंटे तक मुठभेड़ के बाद नक्सली वहां से भाग निकले थे. नक्सलियों के जाने के बाद कमांडो टीम ने मौके से एक महिला नक्सली का शव बरामद किया था.

गढ़चिरौली के खूंखार नक्सली ने AK47 और कारतूस के साथ किया आत्मसमर्पण

3_051720040509.jpeg

मृतका की पहचान नक्सल कमांडर सुजानका उर्फ चिनक्का उर्फ जैनी के रूप में हुई. 48 साल की जैनी को महाराष्ट्र के साथ ही छत्तीसगढ़ और तेलंगाना की पुलिस ने भी वांछित घोषित किया हुआ था. महाराष्ट्र में उसके खिलाफ लगभग 144 गंभीर आपराधिक मामले दर्ज थे. महाराष्ट्र सरकार ने जैनी पर 16 लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें