scorecardresearch
 

चक्रवाती तूफान से हुई तबाही का 75% किसानों को मिले मुआवजाः फडणवीस

भारतीय जनता पार्टी के नेता फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चक्रवाती तूफान निसर्ग से हुई तबाही के बाद 100 करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है, जो बहुत कम है.

देवेंद्र फडणवीस  (फाइल फोटो) देवेंद्र फडणवीस (फाइल फोटो)

  • बीजेपी नेता फडणवीस बोले- 100 करोड़ रुपये का राहत पैकेज बहुत कम
  • बुधवार को महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफान निसर्ग ने जमकर मचाई थी तबाही

महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफान निसर्ग से तबाही के बाद सरकारी राहत को सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने नाकाफी बताया है. उन्होंने कहा कि चक्रवाती तूफान निसर्ग से किसानों को जितना नुकसान हुआ है, उनको उसका कम से कम 75 फीसदी दिया जाए.

भारतीय जनता पार्टी के नेता फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चक्रवाती तूफान निसर्ग से हुई तबाही के बाद 100 करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है, जो बहुत कम है.

उन्होंने कहा, 'जब पिछले साल महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बाढ़ आई थी, तो मेरी सरकार ने सतारा, सांगली और कोल्हापुर को 4 हजार 708 करोड़ रुपये दिए थे, जबकि नासिक और कोंकण को 2 हजार 108 करोड़ रुपये दिए थे.'

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

आपको बता दें कि बुधवार को चक्रवाती तूफान निसर्ग ने महाराष्ट्र में दस्तक दी थी और तबाही मचाई है. इसमें कई लोगों की जान चली गई थी. इसके अलावा कई घरों, इमारतों, तटीय गांव की कॉलोनियों, वाहनों, सैकड़ों पेड़ों और खेती की खड़ी फसलों को भारी नुकसान पहुंचा था.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को ऋण के जरिए पैसा जुटाना चाहिए और लोगों की सहायता करनी चाहिए. कोरोना वायरस के संकट को लेकर फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा प्रकोप है. सूबे में कोरोना वायरस की जांच की क्षमता 35 हजार है, जबकि सिर्फ 10,000 जांच ही की जा रही हैं.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आपको बता दें कि चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने महाराष्ट्र समेत पूरे भारत को अपनी चपेट में ले लिया है. देश में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें