scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस से मिले कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण, BJP में शामिल होने की अटकलों को बताया निराधार

दोनों ही नेता सीएम एकनाथ शिंदे के ओएसडी आशीष कुलकर्णी के वर्ली स्थित आवास पर गणेश दर्शन के लिए गए हुए थे. इसके बाद से राजनीतिक गलियारों में सुगबुगाघट तेज हो गई है. हालांकि कांग्रेस नेता ने बीजेपी में शामिल होने की अटकलों को खारिज किया है.

X
देवेंद्र फडणवीस और अशोक चव्हाण
देवेंद्र फडणवीस और अशोक चव्हाण

महाराष्ट्र में बड़े राजनीतिक संकट के बाद उद्धव और एकनाथ गुट शिवसेना पर अपना-अपना दावा कर रहे हैं. वहीं बताया जा रहा है कि एकनाथ शिंदे अब उद्धव गुट के बड़े नेताओं के संपर्क में है. माना जा रहा है कि इन नेताओं को वह अपने गुट में शामिल करने की प्लानिंग कर रहे हैं. इस बीच अब बताया जा रहा है कि कांग्रेस के दिग्गज नेता व पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कल वर्ली में मुलाकात की. 

जानकारी के मुताबिक दोनों ही नेता सीएम एकनाथ शिंदे के ओएसडी आशीष कुलकर्णी के वर्ली स्थित आवास पर गणेश दर्शन के लिए गए हुए थे. इसके बाद से राजनीतिक गलियारों में सुगबुगाघट तेज हो गई है. हालांकि इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए कांग्रेस नेता ने बीजेपी में शामिल होने की अटकलों को खारिज किया है.

बता दें कि आशीष कुलकर्णी शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ काम कर चुके हैं. कुछ समय पहले ही उन्होंने बीजेपी का हाथ थामा था. महाराष्ट्र में राज्यसभा और एमएलसी चुनावों में रणनीति तैयार करने में इनकी ही अहम भूमिका बताई जताई है. 

क्या बोले अशोक चव्हाण

इंडिया टुडे से बात करते हुए कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि मैं जल्द ही दिल्ली में भारत जोड़ो कांग्रेस की रैली में भाग लूंगा. उनके भाजपा में शामिल होने की सभी अटकलें निराधार हैं. मैं आशीष कुलकर्णी के यहां गणेश दर्शन के लिए गया था, तभी डिप्टी सीएम फडणवीस पहुंचे थे. कई मेहमानों की उपस्थिति में हमारी सौहार्दपूर्ण मुलाकात हुई. 

कांग्रेस नेताओं के निशाने पर हैं चव्हाण

हालांकि, अशोक चव्हाण के भाजपा नेताओं के साथ संपर्क में रहने की खबरें लगातार सा्मने आ रही हैं. कारण, वह 9 अन्य कांग्रेस विधायकों के साथ विधानसभा में उद्धव के नेतृत्व वाली शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी सरकार के बहुमत टेस्ट में शामिल नहीं हुए थे. पृथ्वीराज चव्हाण और चंद्रकांत हंडोरे जैसे कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के कुछ विधायकों ने एमएलसी चुनावों के दौरान कथित तौर पर क्रॉस वोटिंग की थी. जिसे लेकर भी वह कांग्रेस के निशाने पर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें