scorecardresearch
 

शिवसेना के बाद कांग्रेस को लगेगा झटका? शिंदे गुट के संपर्क में महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री

शिवसेना के बाद महाराष्ट्र में कांग्रेस को झटका लग सकता है. महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और मुंबई कांग्रेस प्रभारी चंद्रकांत हंडोरे (Chandrakant Handore) अब शिंदे गुट में शामिल हो सकते हैं. यह कांग्रेस के साथ-साथ महा विकास अघाड़ी के लिए बड़ा झटका होगा. हंडोरे हाल ही में हुए MLC चुनाव में हार गये थे.

X
चंद्रकांत हंडोरे (फाइल फोटो)
चंद्रकांत हंडोरे (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चंद्रकांत हंडोरे भीमशक्ती नाम से संगठन भी चलाते हैं
  • चंद्रकांत हंडोरे MLC चुनाव में हार गये थे

महाराष्ट्र में शिवसेना के बाद अब कांग्रेस में बगावत होती दिख रही है. महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस के कार्याध्यक्ष, मुंबई कांग्रेस प्रभारी और पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री चंद्रकांत हंडोरे (Chandrakant Handore) अब शिंदे गुट में शामिल हो सकते हैं. यह कांग्रेस के साथ-साथ महा विकास अघाड़ी के लिए बड़ा झटका होगा.

चंद्रकांत हंडोरे महाराष्ट्र के MLC चुनाव के बाद से कांग्रेस प्रदेश नेतृत्व से नाराज बताये जा रहे हैं. दूसरी तरफ एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस उनके संपर्क में हैं. महाराष्ट्र में आने वाले स्थानीय निकाय चुनाव और महानगर निगम चुनाव के चलते हंडोरे के रूप में शिंदे गुट को एक दलित चेहरा मिल सकता है.

रविवार यानी 24 जुलाई को मुंबई में हंडोरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं की चिंतन बैठक बुलाई थी. इसमें उन्होंने जोरदार शक्ति प्रदर्शन किया, जिससे महाराष्ट्र के कांग्रेस नेताओं की अब नींद उड़ गई है. इस बैठक में महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले भी शामिल थे.

चंद्रकांत हंडोरे क्यों नाराज?

हाल ही में हुए विधान परिषद चुनाव में कांग्रेस आलाकमान ने चंद्रकांत हंडोरे को पहला उम्मीदवार चुना था. दूसरे नंबर पर मुंबई के अध्यक्ष भाई जगताप थे. बावजूद उसके कांग्रेस विधायकों की क्रॉस वोटिंग के वजह से चंद्रकांत हंडोरे को हार का सामना करना पड़ा, जबकि भाई जगताप की जीत हुई. इससे हंडोरो नाराज हैं.

चंद्रकांत हंडोरे ने आजतक से हुई बातचीत में कहा, 'हम कांग्रेस पार्टी में मौजूद उन महाठगों को सबक सिखाएं बगैर चुप नहीं बैठेंगे. इन्हीं लोगों के वजह से आज कांग्रेस की दुरावस्था हुई है.'

यही नहीं विधान परिषद के साथ ही उद्धव ठाकरे सरकार के विश्वास मत प्रस्ताव के दिन भी कुल 11 कांग्रेस के विधायक गैरमौजूद थे. साथ ही राष्ट्रपति चुनाव में भी महाराष्ट्र कांग्रेस के कुछ विधायकों या सांसदों द्वारा क्रॉस वोटिंग की खबरें हैं, जिससे चंद्रकांत हंडोरे नाराज हैं.

चंद्रकांत हंडोरे ने कहा कि पार्टी के अनुशासन का पालन ना करने वालों पर अगर कार्रवाई नहीं होती तो हमारे सामने कोई रास्ता नहीं बचेगा. महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं को हंडोरे ने चेताया है कि वह अपने कार्यकर्ताओं का ज्यादा दिनों तक मुंह दबा नहीं सकेंगे.

अब राजनीतिक गलियारों में अटकलें हैं कि सीएम एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने चंद्रकांत हंडोरे से संपर्क किया है. सूत्रों की मानें तो चंद्रकांत हंडोरे को शिंदे गुट में शामिल होने का न्योता दिया गया है.

विधान परिषद चुनाव में क्या थे नतीजे

विधान परिषद चुनाव में महाविकास अघाड़ी को झटका लगा था. विधान परिषद चुनाव में छह में से आघाड़ी के 5 उमीदवार चुन कर आए हैं, वहीं बीजेपी के पांचों उम्मीदवार जीत गए. महाराष्ट्र में विधान विधान परिषद चुनाव में 10 सीटों पर 11 उम्मीदवार मैदान में थे. दसवें सीट पर कांग्रेस के दो उम्मीदवारों के बीच संघर्ष देखने को मिला. जिसमें भाई जगताप को जीत मिली और चंद्रकांत हंडोरे हार गए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें