scorecardresearch
 

गांव में दी जा रही थी तीरंदाजी की ट्रेनिंग, 15 वर्षीय बच्चे के गाल में जा घुसा तीर

अमरावती के दरियापुर तहसील में सरकारी खेल मैदान में तीर कमान का प्रशिक्षण शुरू था. इसी दौरान प्रशिक्षण ले रहे वेदांत डहालें के चेहरे पर आंख के पास तीर जा घुसा. बच्चे की उम्र सिर्फ 15 साल है. डॉक्टरों की सूझबूझ से अब उसकी हालत ठीक है.

X
15 वर्षीय बच्चे के चेहरे में जा घुसा तीर
15 वर्षीय बच्चे के चेहरे में जा घुसा तीर

महाराष्ट्र के अमरावती से कुछ ऐसी तस्वीरें जिन्हें देखकर आपके मन में डर बैठ जाएगा. दरअसल तस्वीरें कुछ ऐसी हैं कि एक बच्चे के चेहरे में तीर घुस गया. मामला अमरावती के दरियापुर तहसील में सरकारी क्रीडांगण का है. जहां तीर कमान का प्रशिक्षण शुरू था. इसी दौरान प्रशिक्षण ले रहे वेदांत डहालें के चेहरे पर आंख के पास तीर जा घुसा.

बच्चे की उम्र 15 वर्ष है. बच्चा भी वहीं तीर कमान की ट्रेनिंग ले रहा था. ट्रेनिंग के दौरान एक तीर ऐसा आया जो वेदांत के चेहरे के गाल में जा फंसा. जिसके बाद ग्राउंड में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में वेदांत के साथी उसे दरियापुर के सरकारी अस्पताल लेकर गए. जहां डॉक्टर ने वेदांत के गाल में फंसे तीर को बड़े होशियारी और मुस्तैदी के साथ सही सलामत निकाला. 

गाल में जा घुसा तीर

जिसके बाद बच्चे की स्थिति फिलहाल स्थिर है. जहां तीर घुसा था, वहां अभी जख्म है, जिसपर डॉक्टर ने मरहम पट्टी कर दी है. डॉक्टर ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि अब उसकी तबीयत स्थिर है. 

अमरावती में 15 वर्षीय बच्चे के चेहरे में घुसा तीर

यह तीर उसके गाल में कैसा गया, यह जांच का विषय है. जिसकी जांच ग्राउंड के अधिकारी के मार्गदर्शन में होगी. यह मामला चिंताजनक है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें